Sat. Sep 26th, 2020

बिहार में कोरोना के बीच होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए तैनात होंगे इतने लाख़ कर्मचारी

बिहार में कोरोना के बीच

बिहार में कोरोना के बीच होने वाले विधानसभा चुनाव को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए करीब छह लाख कर्मचारियों की ज़रूरत बताई गई है। इनमें बड़ी संख्या में महिला कर्मचारी भी शामिल होंगी। बता दें कि निर्वाची पदाधिकारियों से राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एचआर श्रीनिवास ने अन्य राज्यों से पहुंचे श्रमिकों के नाम मतदाता सूची में शामिल करने के किए अभियान चलाने को कहा है।

सोमवार को श्रीनिवास द्वारा करीब चार घंटे चुनावी तैयारियों को लेकर जिलों के निर्वाची पदाधिकारियों के साथ मैराथन बैठक की गई, जिसमें चुनाव को लेकर विभिन्न गाइडलाइंस पर विचार किया गया। आइए देखते हैं बिहार में कोरोना के बीच होने वाले चुनाव को लेकर क्या तैयारियां की जा रही हैं।

अन्य राज्यों के श्रमिकों की भागीदारी में वृद्धि

उप निर्वाचन पदाधिकारी बैजूनाथ सिंह के अनुसार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा की गई। साथ ही जिलों में चुनाव को लेकर चल रही तैयारियों का भी जायज़ा लिया गया। निर्वाची पदाधिकारियों को निर्देश मिले हैं कि अन्य राज्यों से जो श्रमिक आए हैं, मतदान में उनकी भागीदारी बढ़ाई जाए। अगर किसी श्रमिक का नाम मतदाता सूची में नहीं है तो जिला स्तर पर अभियान चलाकर ऐसे लोगों के नाम मतदाता सूची में शामिल किए जाएं।

बूथों पर महिला कर्मचारियों की संख्या ज़्यादा

इस बार की स्थिति को देखते हुए मतदान केंद्रों की संख्या बढ़ा कर एक लाख छह हज़ार की गई है। ज़ाहिर है मतदान केंद्रों की संख्या बढ़ने से कर्मचारियों की संख्या भी बढ़ेगी। इस वजह से अब कि ज़्यादा से ज़्यादा महिला कर्मचारियों की बूथों पर प्रतिनियुक्ति होगी। चुनाव में कुल छह लाख कर्मचारी लगाए जाएंगे। एक बूथ पर कम से कम चार कर्मचारी तैनात रहेंगे। इनके अलावा सेक्टर मजिस्ट्रेट, व्यय ऑब्जर्वर और सुरक्षाकर्मी अलग से तैनात किए जाएंगे।

मुख्य निर्वाचन पदाधकारी के निर्दशानुसार बिहार में
कोरोना को देखते हुए जिला निर्वाची पदाधिकारियों द्वारा विधानसभावार मतदान और चुनाव का एक्शन प्लान बनाया जाएगा। बड़े स्ट्रांग रूम, बड़े मतगणना केंद्र की व्यवस्था की जाएगी जिससे कि फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन हो सके। मतदान केंद्रों पर सैनिटाइजेशन की पर्याप्त व्यवस्था के लिए भी निर्देश दिया गया है।

अन्य खबरें पढ़ें सिर्फ बिहार एक्सप्रेस पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *