Fri. Oct 30th, 2020

रामविलास भी लापता:तेजस्वी के बाद रामविलास पासवान भी लापता,पढ़े पूरी खबर

रामविलास भी लापता:तेजस्वी के बाद रामविलास पासवान भी लापता,पढ़े पूरी खबर
रामविलास भी लापता:बिहार में पोस्टर लगाकर नेताओं का विरोध हो रहा है।अभी आरजेडी नेता तेजस्वी यादव को ढूंढा जा रहा है था। राज्य में एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम  यानी चमकी बुखार से लगातार हो रही बच्चों की मौत के बाद अब लोगों ने केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को ढूंढ़ने के लिए भी बैनर लगाए हैं।मतलब अब तेजस्वी के बाद रामविलास पासवान को भी ढूंढने लगे है लोग।

रामविलास भी लापता:लोग पोस्टर लगा कर रहे विरोध:-

वैशाली जिले के हरिवंशपुर गांव में शनिवार को केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और स्थानीय एमएलए के लापता होने के बैनर लेकर स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया। बैनर में केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को ढूंढ़कर लाने वाले को 15 हजार रुपए का इनाम देने की बात की गई है।जबकि तेजस्वी के लिए रकम 5100 रुपए की थी।

आखिर चमकी के मौत पे चुप क्यों है तेजस्वी:-

मुजफ्फरपुर में तेजस्वी यादव के लापता होने के पोस्टर लगे हैं। साथ ही पोस्‍टर में यह भी लिखा गया है कि जो उन्हें ढूंढ के लाएगा उसे 5100 रुपए का इनाम दिया जाएगा। आप को  बताते चले  कि लोकसभा चुनाव में आरजेडी के बेहद ही खराब प्रदर्शन के बाद से तेजस्‍वी यादव सक्रिय तौर पर नहीं दिखे हैं। इसको लेकर लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं। यहां तक की चमकी बुखार से डेढ़ सौ से ज्‍यादा मासूमों की मौत हो चुकी है, लेकिन विपक्ष का नेता होने के बावजूद उनकी ओर से अभी तक इसको लेकर कोई बयान नहीं आया है। आपको बता दें कि ये पोस्टर तमन्ना हाशमी नाम के सामाजिक कार्यकर्ता की ओर से लगाए गए हैं।

वैशाली जिले में सबसे ज्यादा चमकी का कहर:-

बिहार में चमकी बुखार का सबसे ज्यादा कहर वैशाली जिले के हरिवंशपुर गांव पर टूटा है। गांव में एक ही बस्ती के कुल 11 मासूमों की मौत हो गई जिससे कई लोग खौफजदा हैं। आलम यह है कि लोग गांव छोड़कर पलायन कर रहे हैं और घरों में ताला लटका है।लेकिन नेताओं के ये बात बिल्कुल समझ नही आ रही है वो अपने चुप्पी पे कायम रहना ही सही समझते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *