Sun. Mar 29th, 2020

ट्रेन के वेंडरों को मिलेगी ट्रेनिंग, अब नहीं सुनने को मिलेगा ‘चाय-चाय’

ट्रेन के वेंडरों को मिलेगी ट्रेनिंग

सुबह की चाय अगर शान्ति से मिल जाये तो पूरा दिन बन जाता है बस अब ट्रेनों में चाय का सुख ऐसे ही शान्ति मिलने वाला है। ट्रेन के वेंडरों को मिलेगी ट्रेनिंग और उन्हें कई चीज़ें सिखाई जाएँगी। अब देश स्मार्ट हो रहा है तो देश के लोगों को भी तो स्मार्ट होना ही पड़ेगा। अब ट्रेनों के वेंडर ‘चाय-चाय’ की बजाये गुड मॉर्निंग और बेड टी की गूंजती आवाज़ों से आपको उठाएंगे। सिर्फ इतना ही नहीं यह भी बातएंगे कि कौन सा स्टेशन आनेवाला है या ट्रेन कितनी देरी से चल रही है। अब ‘चाय-चाय’ वाला सिलसिला खत्म होने जा रहा है।

 

Image result for चाय

एयर होस्टेस की तरह ट्रेन के वेंडरों को मिलेगी ट्रेनिंग

या फैसला आईआरसीटीसी ने लिया और इसके लिए आईआरसीटीसी (इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरशन) ने ट्रेनों में काम करने वाले वेंडरों को इसके लिए ट्रेनिंग भी दे दी है। पहले चरण में मुजफ्फरपुर और पटना के प्रशिक्षण संस्थानों में 600 वेंडरों को प्रशिक्षण दिया गया है। यह ख़ास व्यवस्था ट्रेन के स्लीपर क्लास से लेकर एसी बोगी तक के लिए लागू की गयी है। अब ट्रेन में यात्र कर रहे यात्रियों को देखे के वेंडर सुबह, दोपहर और शाम यानी समय के अनुसार उनका अभिवादन करेंगे।

यह भी पढ़ें- खेसारी और शुभी शर्मा की फिल्म ‘एक साजिश’, रोमांटिक अंदाज में दोनों आये नजर

 

Image result for एयर होस्टेस की तरह ट्रेन के वेंडरों को मिलेगी ट्रेनिंग

 

मेरा देश बदल रहा आगे बढ़ रहा है

अब ट्रेनों में अगर आप कुछ खरीदते हैं तो थैंक्यू कहा जायेगा। साथ ही साथ साफ़ सफाई का पूरा ध्यान रखा जायेगा। रेल प्रसाशन पूरी तयारी से वेंडरों को ट्रेनिंग दे रहा है। उन्हें कैसे यात्रियों से पेश आना है, कैसे व्यहार करना है और हर सभ्यता से जुड़ी बातें सीखा रहा है। ट्रेन और प्लेन में फर्क बहुत है लेकिन उसे सामान्य कुछ चीज़ों से बनाया जा सकता है। इसके लिए आईआरसीटीसी के अधिकारियों ने बताया कि वेंडरों को एयर होस्टेस के तरह ही ट्रेनिंग देने का निर्णय लिया गया है। पहले चरण के परिणाम और फीडबैक से संतोषजनक प्रतिक्रिया मिली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *