Fri. Oct 30th, 2020

जानिए कैसे तेजस्वी के ट्वीट से गरमाया सियासी माहौल

तेजस्वी के ट्वीट

प्रतीक्षा त्रिपाठी

एक बार फिर फंस महागठबंधन में सीटों का पेंच 11 सीटों पे कांग्रेस और 18 सीटों पे राजद लड़ सकती है चुनाव अभी भी नहीं सुलझा था महागठबंधन में सीटों का पेंच तेजस्वी के ट्वीट से गरमा गया सियासी माहौल। तेजस्वी के ट्वीट से कांग्रेस आलाकमान में नाराजगी और यही वजह है की गठबंधन में एक बार फिर सीटों में लड़ी पेंच।

तेजस्वी ने किया ट्वीट

तेजस्वी ने शुक्रवार को एक ट्वीट किया था – “अगर अब की बार विपक्ष से कोई रडनीतिक चूक हुई तो फिर देश में आम चुनाव होंगे या नहीं , कोई नहीं जानता? अगर अपनी चंद सीटें बढ़ाने और सहयोगियों की घटाने के लिए अहंकार नहीं छोड़ा तो सविधान में आस्था रखने वाले न्यायप्रिय देशवासी माफ़ नहीं करेंगे।” और साथ ही ये भी खबर आयी है की उन्होंने राहुल गाँधी से मुलाकात इ लिए समय माँगा है।

रालोसपा: 5 सीट से कम नहीं चाहिए जब उपेंद्र कुशवाहा एनडीए छोड़कर महागठबंधन में आये तो राजद ने उहने 5 सीट देने की बात की थी और अब रालोसपा को महागठबंधन में सीट को लेकर हो रही चर्चा के मुताबिक सिर्फ 4 सीट मिलने की संभावना है। नाराज है रालोसपा पार्टी इस सीट शेयरिंग फॉर्मूले से पार्टी के नेताओं ने कहा उन्हें 5 सीट से एक भी सीट कम नहीं चाहिए जानकारियों के हिसाब से रालोसपा और कांग्रेस के बीच फंस है पेंच ।
मांझी भी हुए नाराज इस सीट शेयरिंग फॉर्मूले से

महागठबंधन के अंदर सीट शेयरिंग से मांझी भी परेशान उनका कहना है जिस तरह से हमारी पार्टी ने तैयारी की है और जातिगत समीकरण हैं – हमे 5 सीटें ही मिलनी चाहिए उससे एक सीट भी काम हमे मंजूर नहीं। पांच से कम सीट मिलने पर क्या करेंगे हम? उनका कहना है राजद और कांग्रेस के बाद सबसे बड़ी पार्टी हमारी है । इसलिए उनके मुताबिक उन्हें राजद और कांग्रेस के बाद सबसे अधिक सीट मिलनी चाहिए।
संभव हुआ 40 सीटों का गाडित महागठबंधन में

राजद – 18 
कांग्रेस -11 
रालोसपा – 4 
हम (से )- 3 
वीआईपी -3 
शरद यादव या पप्पू यादव – 1

 

यह भी पढ़ें –चुनाव आयोग ने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में अधिक पुलिस बल लगाने के लिए बिहार सरकार को दिया निर्देश

 

यह भी पढ़ें – कन्हैया कुमार को नहीं मिला बिहार महागठबंधन में भाव, तेजस्वी यादव ने रोकी बेगूसराय से एंट्री

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *