Thu. Jul 9th, 2020

कोरोना महामारी पर एक माह की सैलरी बिहार सीएम रिलीफ फंड में देंगे तेजस्वी यादव

तेजस्वी यादव

ताजा समय की बता की जाये तो कोरोना वायरस एक ऐसी बीमारी बन चुकी है जिससे पूरी दुनिया ना सिर्फ प्रभावित है बल्कि सहमी हुई है। इस खतरनाक और जानलेवा बीमारी को रोकने के लिए सभी लोग हर देश अपने अपने स्तर पर लगा हुआ है। इसी सिलसिले में सरकार नागरिकों को लगातार सावधान कर रही है और जिलों तथा राज्यों को लॉकडाउन करके लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने का अनुरोध कर रही ताकि इस वायरस के संक्रमण को रोका जा सके। वहीँ दूसरी तरफ कुछ लोग कोरोना वायरस से संक्रमित तथा मृत लोगों की मदद के लिए भी आगे बढ़ रहे हैं और सरकार के राहत कोष में पैसे देकर ना सिर्फ सहयोग कर रहे बल्कि जागरुकता भी बढ़ा रहे। ऐसे में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने ऐसा कदम उठाया है जिससे सभी बिहारवासी के दिल खुश हो उठे हैं।

तेजस्वी यादव ने फसबुक से दी यह जानकारी

बता दें कि बिहार नेता प्रतिपक्ष और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने बड़ी पहल करते हुए कोरोना पीड़ितों के लिए लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में अपनी एक महीने की सैलरी देने का ऐलान किया है। तेजस्वी यादव ने यह जानकारी अपने सोशल अकाउंट ‘फसबुक’ के माध्यम से दी।

अपने फेसबुक पर एक पोस्ट लिखते हुए तेजस्वी यादव कहा कि इस कठिन घड़ी में सभी सामर्थ्यवान राज्यवासी अपनी – अपनी ज़िम्मेदारी और कर्तव्य निभाएँ। साथी बिहारवासियों के जीवन सुरक्षा का ज़िम्मा लेंगे। जितना बन पड़ेगा, उतना करेंगे। कोरोना से लड़ेंगे, मिलकर उसे हराएँगे, बिहार को सुरक्षित बनाएँगे। सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि तेजस्वी यादव ने तो यहाँ तक्कः दिया कि नेता प्रतिपक्ष होने के नाते पटना में उन्हें जो सरकारी आवास दिया गया है, सरकार उसे भी अपनी सुविधानुसार इस त्रासदी से निपटने और राज्यवासियों की सुरक्षा के लिए इस्तेमाल कर सकती है।

तेजस्वी ने इस बात पर दुःख जताते हुए कहा कि ‘बिहार में कोरोना से एक व्यक्ति की जान चली गई है, मगर इसके बाद अब ऐसा और नहीं होना चाहिए। कोरोना वायरस के खिलाफ इस लड़ाई में सरकार की सकारात्मक पहल में पूरा सहयोग देंगे लेकिन किसी भी स्तर पर ढिलाई बदार्श्त नहीं की जाएगी क्योंकि आखिरकार सवाल एक जिंदगी का है।’ उनके इस पोस्ट से तो यह साफ़ साफ़ प्रतीत होता है कि उन्हें अपने राज्यवासियों की चिंता है और वो इस वायरस से निपटने के लिए ना सिर्फ खुद तैयार हैं बल्कि औरों को भी इसमें अपना सहयोग देने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *