Fri. Aug 14th, 2020

कश्मीरी को भाया बिहारी:बिहारी छोरा भाने के बाद,भाग के रचाई शादी

कश्मीरी को भाया बिहारी:बिहारी छोरा भाने के बाद,भाग के रचाई शादी
कश्मीरी को भाया बिहारी:जम्मू-कश्मीर की पुलिस इन दिनों बिहार का चक्कर लगा रही है। हाल में ही कश्मीर की दो लड़कियों को उनके पति समेत गिरफ्तार करने वाली जम्मू-कश्मीर की पुलिस ने मंगलवार को एक बार फिर से उसी जिले में दबिश दी जहां से दोनों युवतियों को बरामद किया गया था। पुलिस ने सुपौल की राघोपुर पुलिस की मदद से दीवानगंज इलाके में छापेमारी की, लेकिन उसके हाथ खाली रहे।लगता है कश्मीरी लोगो को बिहारी लोग भा रहे है,अभी तो कुछ ही दिन हुवे है,370 और 35A हटे हुवे।

पुलिस के सामने चुनौती:-

हाल के दिनों में कश्मीर में धारा 370 हटने के बाद सुपौल में कश्मीरी लड़की से प्यार के चक्कर का ये दूसरा मामला सामने आया है। सुपौल के राघोपुर थाना इलाके के इटवा गांव के रहने वाले मोहम्मद सुभान के साथ कश्मीर को छोड़ पहुंची लड़की को ढूंढने कश्मीर पुलिस सुपौल पहुंची, जहां राघोपुर थाना के सहयोग से कश्मीर के अनंतनाग जिले की रहने सिमी की तलाश की गई लेकिन सुपौल में कोर्ट मैरेज और निकाह पढ़ने के बाद फरार युगल का कोई सुराग नहीं मिल सका।पुलिस अभी भी ढूंढने में लगी हुई है,और पूरी फिराक में है।

कश्मीरी को भाया बिहारी:पुलिस रह गई पीछे:-

दरअसल राघोपुर थाना इलाके के इटावा के रहने वाले मोहम्मद सुभान तीन बच्चों का पिता है।उसकी पहली शादी अररिया जिले के फारबिसगंज में हुई है।वो कश्मीर में 5 सालों से रहकर राज मिस्त्री का काम किया करता था लेकिन इसी बीच धारा 370 हटने के बाद दोनों प्रेमी-युगल वहां से फरार हो गये। सुभान लड़की को लेकर राघोपुर पहुंचा जहां उसके माता-पिता ने इस बात की जानकारी राघोपुर पुलिस को दी जिसके बाद राघोपुर पुलिस ने लड़की को अपने कब्जे में लेकर अल्पावास गृह सुपौल में रखा और कश्मीर को पुलिस को इसकी सूचना दी।सूचना देने के बाद भी कश्मीर में इस मामले को लेकर प्राथमिकी दर्ज हुई लेकिन इसके बाद जब कश्मीर पुलिस लड़की को लेने एक सप्ताह तक नहीं आयी तो सुपौल पुलिस ने लड़की को छोड़ दिया। पुलिस की गिरफ्त से बाहर आते ही प्रेमी युगल ने कोर्ट मैरेज भी कर लिया और फिर गांव छोड़कर फरार हो गए लेकिन देर रात कश्मीर पुलिस के पहुंचने के बाद फिर से सिमी की खोजबीन की जाने लगी है लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिल पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *