Fri. Aug 14th, 2020

टीचर की लापरवाही:- बच्चों को खिलाया छिपकली वाला मिड डे मील

टीचर की लापरवाही:- बच्चों को खिलाया छिपकली वाला मिड डे मील
टीचर की लापरवाही:अक्सर कई राज्यो से सुन ने को आता है कि बच्चो के मिड डे मील में छिपकली गिर जाती है तो कभी कुछ तो कभी कुछ।जिस से बच्चे बीमार हो जाते है उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ता है वही सुन में को आया है बिहार में।बिहार के सुपौल में मिड डे मील खाने से दर्जनों बच्चों के बीमार होने की खबर आ रही है। पीड़ित बच्चों का इलाज प्रतापगंज पीएचसी में चल रहा है। बताया जा रहा है कि मिड डे मील में छपकली गिर जाने से खाना जहरीला हो गया। जिसे खा कर बच्चों की हालत खराब होने लगी। फिलहल संबंधित अधिकारियों का कहना कि आरोपी शिक्षकों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी।उधर बच्चो की हालत में लगातार सुधार की भी खबरे है।

बच्चो की बातों को नजरअंदाज किया गया:-

दरअसल कुछ बच्चों ने शिक्षकों से मिड डे मील में छिपकली पड़े होने की शिकायत की। जिसके बाद विद्यालय के शिक्षकों ने एमडीएम के खाने से छिपकली निकाल दी और बच्चों को खाना भी खिला दिया। खाने के कुछ ही मिनट बाद बच्चे बीमार होने लगे तो शिक्षकों ने बिना समय के ही विद्यालय में बच्चों को छुट्टी दे दी।जिस से बच्चे अपने घर तो चले गए पर वो जहरीला खाना खाने से बीमार हो गए,जिन्हें समय पे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।इसमे स्कूल प्रशासन की सारी जिम्मेदारी है क्योंकि बच्चो ने ये बात बता दिया था कि खाने में छिपकली गिरी थी,लेकिन उनकी बातों को नजरअंदाज किया गया।

टीचर की लापरवाही:पूरे मामले की होगी जांच:-

बच्चे जैसे ही घर पहुंचे वो अधिक बीमार हो गए। जिसके बाद बच्चों के परिजनों ने उन्हें प्रतापगंज पीएचसी में भर्ती कराया ।जहां बच्चों का इलाज चल रहा है। वहीं इस बाबत प्रतापगंज के एमडीएम प्रभारी ने बताया कि बच्चो के इलाज के बाद शिक्षको के उपर कार्रवाई की जाएगी।अब देखना ये है की इसपे शिक्षको के ऊपर कब तक कारवाई होती है क्योंकि ये कोई छोटी बात नही है,इस से बच्चो की जान भी जा सकती थी लेकिन समय रहते परिजनों ने बचा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *