Sun. Jun 7th, 2020

अनोखी पहल, कोरोना से बचाव के लिए महिलाएं चला रहीं हैलो सखी अभियान

'हैलो सखी' अभियान

कोरोना संकट के दौरान पूरे देश भर में लॉकडाउन जारी कर दिया गया है ताकि लोग अपने घरों में रहे और कम से कम एक दूसरे के संपर्क में आए जिससे कोरोना संक्रमण के फैलने का खतरा कम हो जाए। ऐसे में लोगों को कई तरह की समस्याओं का भी सामना करना पड़ रहा है और कई जरूरी चीजों का आदान-प्रदान भी नहीं हो पा रहा। ना ही लोग एक दूसरे से मिल पा रहे लेकिन सरकार द्वारा उठाया गया कदम बेहद जरूरी है।

हैलो सखी अभियान से महिलाएं कर रही प्रेरित

इसी बीच मुजफ्फरपुर में एक महिला संगठन ‘ज्योति महिला सामाख्या’ जिसमें करीब 30,000 से अधिक महिलाएं जुड़ी हुई हैं वह इस लॉकडाउन के दौरान अपनी संस्था से जुड़ी तमाम महिलाओं तथा अन्य महिलाओं को कोरोना वायरस से बचने और सुरक्षित रहने के सुझाव दे रही हैं। अब बड़ा सवाल यह है कि इस लॉकडाउन में वह यह काम कैसे कर पाती हैं तो इसके लिए उन्होंने हैलो सखी अभियान चलाया है।

हैलो सखी अभियान में बताई जा रही महत्त्वपूर्ण बातें

हैलो सखी अभियान के तहत इस संगठन से जुड़ी महिलाओं द्वारा ग्रामीण महिलाओं को फोन करके कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की सीख दी जा रही है। बताया जाता है कि संगठन से जुड़ी महिलाएं प्रतिदिन करीब 20 महिलाओं को फोन करके उन्हें अलग-अलग तरह के सुझाव देती हैं, जिससे वह कोरोना वायरस से खुद का बचाव कर सकें। सिर्फ इतना ही नहीं यह भी बताती हैं कि लॉकडाउन के दौरान घर में रहकर सिर्फ परेशान नहीं होना है बल्कि अपने बच्चों तथा परिवार के सभी सदस्यों को दिन भर में कई बार साबुन से हाथ धुलने की बातें भी सिखा रही हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि पिछले 5 दिनों से ये महिलाएं हजारों महिलाओं को फोन करके कोरोना के प्रति जागरूक कर चुकी हैं।

ज्योति महिला सामाख्या से जुडी करीब 50 महिलाएं प्रतिदिन मोबाइल के जरिए जागरूकता फैलाने का यह सराहनीय कार्य कर रही हैं, हैलो सखी अभियान के जरिये जो बारी-बारी से सुबह, दोपहर और शाम में संगठन से जुड़ी सखियों को फोन कर गांव की महिलाओं का नंबर लेकर उनसे संपर्क करती है और कोरोना वायरस से जुडी समस्त जानकारी देना तथा उनकी समस्याओं का निवारण करती हैं। इस दौरान उन्हें यह बताया जाता है कि किस तरह आप लोग लॉकडाउन का पालन करें, साबुन से कुछ-कुछ समय पर हाथ धो लें, मास्क या रुमाल या तौलिया आदि का इस्तेमाल करें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें तथा खांसी, बुखार, बदन दर्द आदि होने पर तुरंत अस्पताल में संपर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *