Fri. Oct 30th, 2020

सोशल मीडिया की अफ़वाह : सोशल मीडिया की अफ़वाहों से कैसे बचें?

सोशल मीडिया की अफ़वाह

सोशल मीडिया की अफ़वाह : सोशल मीडिया पर उड़ी झूठी ख़बरों के ख़िलाफ़ अब आवाज़ उठाया जा सकता है। पुलिस को सूचित कर अफ़वाहों से बचा जा सकता है क्यूंकि झूठी खबर फैलाने पर अब होगी कड़ी कार्रवाई।

सोशल मीडिया की अफ़वाह : ईद संबंधित लिए गए निर्णय

ईद के त्योहार को उत्साह और सौहार्दपूर्ण रूप से मनाने हेतु मनिहारी में ईदुल फीतर को लेकर मनिहारी अनुमंडल कार्यालय में शांति समिति का बैठक का आयोजन किया गया। शांति समिति की बैठक जिसकी अध्यक्षता एसडीएम संदीप कुमार द्वारा हुई जिसमें 6 या 7 जून को होने वाली ईद को बेहतर ढंग से मनाने के लिए कुछ निर्णय लिए गए। और त्योहार के दौरान विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए उत्साह निर्धारित स्थानों पर पुलिस बल एंव दंडाधिकारी का प्रतिनियुक्ति करने काे लेकर बैठक में विस्तृत चर्चा की गई।

सोशल मीडिया की अफ़वाह : शांतिपूर्वक ईद मनाएं

बैठक में शामिल मनिहारी विधायक मनोहर प्रसाद सिंह का भी कहना है कि ईद की शांतिपूर्वक मनाया जाए। और उन्होंने सभी समुदाय के लोगों से आपस में मिलजुल कर ईद मनाने की अपील की।

प्रशासन द्वारा लिए गए खास निर्णय को जानिए!

एसडीएम संदीप कुमार के अनुसार नमाज़ अदा करने के वक़्त ट्रैफिक जाम या मस्जिद आने जाने बाले कों कोई परेशानी नहीं हो उसके लिए प्रशासन द्वारा आवश्यक कदम उठाया जाएगा। सोशल मीडिया पर वायरल होने वाली झूठी खबरों पर ध्यान नहीं देने और कोई भी किसी तरह की कोई जानकारी मिलें तो उसे सबसे पहले सिविल या पुलिस प्रशासन कों देने की अपील की गई है। और विधायक मनोहर सिंह ने बिजली, साफ सफाई, विधि व्यवस्था पर विशेष ध्यान देते हुए इसकी पूरी व्यवस्था करने का निर्देश प्रशासन को दिया और साथ ही यह भी कहा कि सोशल मीडिया पर ध्यान रहे और आम लोग अफवाह से बचे।किसी भी अफ़वाह पर कोई कदम उठाने से पहले पुलिस को सूचित करें।

कौन कौन इस बैठक में था शामिल?

डीएसपी एम एस एच फाखरी, डीसीएल आर रविकांत सिन्हा, सीओ संजीव कुमार, बीडीओ छाया कुमारी, इंस्पेक्टर सह थानाध्यक्ष राम विजय शर्मा प्रदुमन ओझा , प्रमोद झा सहित कई स्थानीय लोग इस बैठक में शामिल थे।

यह खबरें भी ज़रूर पढ़ें :-

हर गांव में खेती प्रशिक्षण दी गई, जानिए क्या है इस खेती प्रशिक्षण की खासियत?

 

मोदी का मंत्रिमंडल:JDU कोटे से शामिल हो सकते है दो MP

 

प्रधानमंत्री शपथ ग्रहण : बिहार के किन नेताओं को शामिल किया जा सकता है मंत्रिमंडल में?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *