Fri. Aug 14th, 2020

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के कोरोना संक्रमित होने की आशंका पर पार्टी में मची खलबली

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव

चारा घोटाले के मामले में रांची के होटवार जेल में सज़ा काट रहे आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव बीमार होने के कारण राजेन्द्र आयुर्विज्ञान संस्थान में इलाज करा रहे हैं। लेकिन पार्टी व परिवार वालों को एक और चिंता सता रही है कि कहीं परिवार प्रमुख लालू यादव कोरोना संक्रमित तो नहीं। दरअसल, शनिवार को उनका सैंपल लिया गया है जिसकी रिपोर्ट रविवार को आनी है। इस वजह से पार्टी में खलबली मची हुई है कि उनके सुप्रीमो को कोरोना ने अपना शिकार तो नहीं बना लिया।

रांची के रिम्स में हुई कोरोना की जांच

लालू प्रसाद यादव की कोरोना की जांच रांची के रिम्स में की गई है। हालांकि, रिम्स में उनका इलाज कर रहे डॉ. उमेश प्रसाद का कहना है कि लालू यादव में कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए हैं। उनके अनुसार यह जांच एहतियात बरतने के लिए की गई है।

लालू के वार्ड के निकट है कोरोना वार्ड

अपको बता दें कि रिम्स में भर्ती लालू यादव के पेइंग वार्ड के पास ही कोरोना मरीजों के इलाज के लिए कोविड वार्ड बनाया गया है। इस वजह से उनके परिवार वालों ने संक्रमण की आशंका जताते हुए आपत्ति भी जताई है। वहीं, इस दौरान रिम्स में कोरोना संक्रमित केस की संख्या भी बढ़ती देखी गई है। इस वजह से लालू और उनके तीन सेवादारों की कोरोना जांच कराई गई है।

आरजेडी पार्टी की परेशानी की ये है वजह

लालू प्रसाद यादव की नासाज़ तबीयत को लेकर आरजेडी के प्रदेश प्रवक्‍ता मृत्युंजय तिवारी ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि उनकी पार्टी और नेता विरोधी दल तेजस्वी यादव के बार बार कहने पर भी कि उनके सुप्रीमो की तबीयत खराब है लेकिन फिर भी सरकार उन्‍हें मानसिक और शारीरिक रूप से परेशान कर रही है।

उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के आदेश को भी याद दिलाया कि कोरोना संक्रमण का जो वैश्विक संकट है, उसमें सुप्रीम कोर्ट के आदेश अनुसार जो उम्र दराज लोग हैं, बीमार हैं और जिन्होंने आधी सजा काट ली है, उनको बाहर निकाल देना चाहिए। लेकिन फिर भी लालू अभी तक बाहर नहीं आएं है जब कि अस्पताल में ख़तरा बढ़ता जा रहा है।

 

अन्य खबरें पढ़ें सिर्फ बिहार एक्सप्रेस पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *