Sat. Dec 7th, 2019

बक्सर के बाद समस्तीपुर शर्मनाक रेप केस ने महिला सुरक्षा पर खड़े किये प्रश्न

समस्तीपुर शर्मनाक रेप केस

समस्तीपुर शर्मनाक रेप केस : बक्सर में हुए शर्मनाक रेप केस को बीते अभी 24 घंटे भी नहीं हुए थे कि समस्तीपुर में प्रदेश की एक और बेटी की अस्तिमता से खिलवाड़ की ख़बर ने सबको हिला कर रख दिया है।  बुधवार को बिहार के समस्तीपुर जिले में एक सुनसान जगह पर एक महिला का शव मिला। मामला रेप का है जो पुलिस के अनुसार 24 घंटों में दूसरी ऐसी घटना है।

वारिसनगर थाना क्षेत्र के दादरी चौर में शव मिला है। अधिकारियों ने कहा कि उन्हें संदेह है कि महिला को कहीं और मार दिया गया था और बाद में वहां फेंक दिया गया था। उन्होंने कहा कि महिला की पहचान नहीं की जा सकी क्योंकि शव को सिर से लेकर घुटनों तक बुरी तरह चोटिल किया गया है।

वारिसनगर के स्टेशन हाउस अधिकारी प्रसुंजय कुमार ने पीटीआई-भाषा को बताया, “महिला के कपड़े भी जल गए, जिससे उसकी पहचान मुश्किल हो गई। ऐसा प्रतीत होता है कि उसे कहीं और मार दिया गया और उसके शव को ठिकाने लगाने के बाद घटनास्थल पर फेंक दिया गया।”

बक्सर में हैदराबाद रेपकांड जैसी घटना से इंसानियत हुई शर्मसार

समस्तीपुर शर्मनाक रेप केस : कब जागेंगे नीतीश कुमार ?

“हमने शव को पोस्टमार्टम के लिए समस्तीपुर शहर के एक अस्पताल में भेज दिया है, जो यह पता लगाएगा कि क्या यौन उत्पीड़न हुआ है,” उन्होंने कहा। दक्षिण बिहार के बक्सर जिले से मंगलवार को एक ऐसी ही घटना सामने आई, जिसमें देश भर में हैदराबाद में एक पशु चिकित्सक के बलात्कार और हत्या के विरोध में देश भर में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए।

बिहार में हो रही इस तरह की घटनाओं पर निराशा व्यक्त करते हुए, राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणि मिश्रा ने पटना में कहा, “ऐसा प्रतीत होता है कि महिला आबादी के प्रति मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की संवेदनशीलता एक अकुशल प्रशासन द्वारा की जा रही है।”

मुंगेर के प्रणव कुमार ने बिहार जुडिशल सर्विस एग्जाम में किया कमाल

“ऐसे उदाहरण हैं जब स्थानीय प्रशासन ने किसी महिला के खिलाफ अपराध के बारे में हमारे द्वारा जारी नोटिस का जवाब देने की भी परवाह नहीं की है,” उन्होंने अफसोस जताया।

घटनाओं पर प्रतिक्रिया देते हुए, पूर्व मुख्यमंत्री और राजद नेता राबड़ी देवी ने सत्तारूढ़ पार्टी को हटाने का आव्हान किया। सियासत होती रहेगी और बिहार की बेटियां ऐसे ही दरिंदो का शिकार होती रहेंगी। शायद  सीएम नीतीश के  घर की किसी बेटी के साथ ऐसी घटना घटेगी तब जाकर उन्हें होश आएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *