Tue. Dec 7th, 2021

फिर मंत्री बन सकते है राजीव प्रताप रूडी , यह अन्य भी दौड़ में !

राजीव प्रताप रूडी

मंत्री बन सकते है राजीव प्रताप रूडी : 2017 के सितम्बर महीने में मोदी कैबिनेट में बदलाव हुआ था। इसमें कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री के पद से राजीव प्रताप रूडी को हटा दिया गया था जिसका कारण स्किल इंडिया की बड़े लेवल पर सफल न होना था। इस पर अपनी प्रतिक्रिया में उन्होंने कहा कि ‘बॉस हमेशा सही होते हैं और मैं अपने बॉस को अच्छे कामों को बताने में असफल रहा।’

जाहिर है रूडी ने अपने बयान के जरिए अपना दर्द बयां किया था। हालांकि, इस बार संभावना व्यक्त की जा रही है कि वह एक बार फिर मोदी कैबिनेट का हिस्सा हो सकते हैं।

फिर मंत्री बन सकते है राजीव प्रताप रूडी : यह है ज़रूरी बातें ………

दरअसल, इस लोकसभा चुनाव में, राजीव प्रताप रूडी ने लालू यादव की समधी चंद्रिका राय को एक कठिन मुकाबले में 1 लाख 36 हजार 531 वोटों से हराया है। इससे पहले 2014 में 16 वें लोकसभा चुनाव में उन्होंने लालू यादव की पत्नी और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को हराया था।

राजीव प्रताप रूडी पार्टी के एक बड़े नेता है, एकमात्र संकेत तब मिला जब भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने उन्हें दिसंबर 2018 में पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता नियुक्त किया। जाहिर है कि एक बार फिर मंत्री पद के लिए उनकी दावेदारी आगे आ रही है पर जिसपर कल मोहर लगनी बाकी है दरअसल, रूडी पीएम मोदी के बेहद करीबी माने जाते है और इसलिए अटकले तेज़ है कि पीएम मोदी उन्हें फिर से मौका देकर मंत्री पद से शुशोभित करेंगे

सत्तारूढ़ बीजेपी में मंत्री बनने के लिए कई नाम आगे आ रहे है इन नामो में रविशंकर प्रसाद, आरके सिंह, गिरिराज सिंह और रामकृपाल यादव को भी मोदी मंत्रिमंडल का हिस्सा माना जा रहा है अश्विनी कुमार चौबे और राधा मोहन सिंह को इस बार उतारा जा सकता है।

वास्तव में, अगर प्रदर्शन के मामले में चौबे को पिछड़ा माना जा रहा है, तो राधामोहन सिंह की आयु पार्टी की निति के तहत फिट नहीं बैठ रही यानी कुल मिलकर गिरिराज सिंह समेत रविशंकर प्रसाद और राजीव प्रताप रूडी को मंत्रिमंडल में स्थान मिल सकता है कल देखना होगा पीएम मोदी किसे शामिल करते है और कौन सा महकमा देते है

 

यह खबरें भी ज़रूर पढ़ें : –

बिहार एक्सप्रेस बुलेटिन-29-05-2019 भाग 2

नीतीश कुमार से मुलाकात कर अमित क्यों पहुंचे पीएम के पास?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिहार एक्सप्रेस ताज़ा ख़बरें