Sat. Nov 28th, 2020

समाज सुधार के लिए दुर्गा पूजा मनाती है बिहार की ये पूजा समिति,पढ़े खबर

समाज सुधार के लिए दुर्गा पूजा मनाती है बिहार की ये पूजा समिति,पढ़े खबर
समाज सुधार : दुर्गाबाड़ी में मां दुर्गा पूजा पिछले 103 सालों से सामाज सुधार की भावना से प्रेरित होकर की जा रही है।यहां की पूजा पर बांग्ला साहित्यकार और विचारक सतीनाथ भादुडी  के समाज सुधार के विचार जुडे हैं। विशेष बात ये कि यहां बांग्ला रीति से पूजा आयोजित होने के बावजूद बलि प्रथा वर्जित है। साथ ही यहां पूजा पाठ के दौरान लाउड स्पीकर का उपयोग भी नहीं होता।मतलब यहा बड़े ही शांति पूर्वक होता है जिसमे ध्वनि प्रदूषण भी नही किया जाता। दुर्गापूजा का आयोजन एक पखवाड़ा पहले से शुरू हो जाता है, जिसमें बच्चों और युवाओं के लिए खेल, भाषण, नाटक, संगीत और लेखन से जुडी प्रतियोगिताएं करायी जाती हैं। इस तरह यह आयोजन समाज सुधार के साथ पिछले 100 साल से दुर्गापूजा के रूप में लगातार सफलतापूर्वक किया जा रहा है। आयोजकों ने अपनी परंपरा को विशेष बताते हुए आगे भी जारी रखने की बातें कही हैं।

पशुओं की बलि :-

दुर्गाबाड़ी पूजा समिति के सचिव बुलाई भट्टाचार्य की मानें तो बांग्ला साहित्यकार और स्वतंत्रता सेनानी सतीनाथ भादुड़ी ने समाज सुधार के अभियान को लेकर साहित्य तो रचे ही, उन्होंने सामाजिक और धार्मिक परंपराओं में नवाचार और सुधारवादी कार्यक्रम भी चलाया था।वे दुर्गापूजा में निरीह पशुओं की बलि के घोर विरोधी थे साथ ही धार्मिक कार्यक्रमों को मानव के जीवन में सुधार के आयोजन मानते थे न कि दिखावे के,इसी के तहत उन्होंने बलि प्रथा पर रोक लगायी।
                                                                                                                           BPSC 65th CCE प्रीलिम्स परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी

समाज सुधार : ध्वनि प्रदूषण :-

उन्होने ध्वनि प्रदूषण के खतरों को समझते हुए और महज दूसरों को कान में धार्मिक उपदेश पहुंचाने के दिखावे को रोकने के उद्देश्य से पूजा में लाउडस्पीकर का प्रयोग वर्जित करवाया। इस तरह पूर्णिया की दुर्गाबाडी में दुर्गापूजा समाज सुधार के उद्देश्यों के साथ एक शतक से सफलतापूर्वक की जा रही है।मतलब ये एक अलग ढंग से मनाया जा रहा है जिस से कुछ भी नुकसान नही होता।ये आज के पीढ़ी के लिए एक बड़ा सिख भी है।

आगे की खबरें भी जरूर पढ़ें…

 

नीतीश विरोध पर गिरिराज को मिला शाहनवाज का साथ,पढ़े पूरी खबर

 

रामलीला बंद पर बोले गिरिराज – यह अनुचित, बिहार में एक पार्टी की सरकार नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *