Wed. Sep 30th, 2020

बिहार में पोस्टर वार: जेडीयू ने लालू पर साधा निशाना, कहा- परिवार मांगे विशेष कैदी का दर्जा

बिहार में पोस्टर वार

इन दिनों सभी राजनितिक दलों की नजरें विशेष रूप से बिहार पर टिकी हुई है क्योंकि बिहार में इसी वर्ष अक्तूबर में विधानसभा चुनाव होने को हैं। इस बाबत सभी राजनीतिक पार्टियाँ अभी से ही अपनी अपनी चुनावी तैयारियों में जुट गए हैं। चूँकि चुनाव इस बार बिहार में है तो बिहार के मुख्य राजनितिक दल जनता दल यूनाइटेड (JDU) तथा राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के बीच पहले तो जुबानी जंग और अब पोस्टर वार जोरों पर छिड़ा हुआ है।

बिहार में चल रहा पोस्टर वार

बताते चलें कि पटना के सबसे व्यस्ततम चौराहों में से एक इनकम टैक्स चौराहे पर जेडीयू पार्टी ने एक पोस्टर लगाया जिसमें एक तरफ लिखा गया है कि जेडीयू बिहार के लिए विशेष राज्य का दर्जा मांग रही है. जबकि उस पोस्टर के दूसरी तरफ लिखा गया है कि आरजेडी लालू प्रसाद के लिए विशेष कैदी का दर्जा मांग रही है। फिलहाल तो जेडीयू द्वारा जारी किया गया यह पोस्टर काफी चर्चा में है।

इस पोस्टर को राजधानी पटना के इनकम टैक्स चौराहा पर लगाने का मकसद ही यह था की इसे ज्यादा से ज्यादा लोग देखें। फिलहाल तो पोस्टर वार के जरिए जेडीयू और राजद दोनों पार्टियां अपने अपने मतदाताओं को अपनी तरफ आकर्षित करने की पुरजोर कोशिश में लगे हुए हैं। इसमें कोई दो राय नही है की चुनाव के आते ही सभी राजनितिक पार्टियाँ में एक दुसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला शुरू हो जाता है, वही बिहार लोकसभा चुनाव से पहले यहाँ पर भी हो रहा।

हालाँकि यह पहला पोस्टर वार नहीं था, बताते चलें की इससे पहले भी बिहार सरकार पर तीन फरवरी को आरजेडी की ओर से जारी किये गए एक पोस्टर में जेडीयू पर निशाना साधाते हुए ‘कुर्सी के प्यारे-बिहार के हत्यारे’ नाम से पोस्टर जारी किया था। इस पोस्टर के जरिये यह दिखाया गया जा रहा था की बिहार डूब रहा है। पोस्टर में सरकार द्वारा लोगों को बेरोजगार करने और भ्रष्टाचार फैलाने वाला बताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *