Sat. Aug 8th, 2020

सिपाही बहाली परीक्षा में नक़ल करते पकड़े गए अभियार्थी, लगा रखा था ब्लूटूथ

सिपाही बहाली परीक्षा

बिहार में रविवार को सिपाही बहाली परीक्षा में मिठनपुरा थाना क्षेत्र के जिला स्कूल केंद्र से ब्लूटूथ से नक़ल करते अभियार्थी पकडे गए हैं, जिन्हे तुरंत गिरफ्तार कर लिया गया है। नक़ल करते अभियार्थी की पहचान पटना के दुल्हिन बाजार इलाके के धनंजय कुमार के रूप में हुई है। मामले को लेकर मिठनपुरा थानाध्यक्ष भागीरथ प्रसाद ने बताया कि प्राचार्य के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर आरोपित के विरुद्ध आगे की कानूनी कार्रवाई की जा रही है। वहीं, मोतिहारी में गोपाल साह परीक्षा केंद्र से एक फर्जी छात्र की गिरफ्तारी हुई है। केंद्राधीक्षक ने उस उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई। ये अभियार्थी परीक्षा के दौरान नक़ल करते पकडे गए हैं।

अभियर्थियों ने की सिपाही बहाली परीक्षा में नक़ल

ब्लूटूथ की मदद से नक़ल कर रहा आरोपित धनंजय सिपाही बहाली की परीक्षा देने के लिए जिला स्कूल केंद्र पर परीक्षा दे रहा था। इस बीच उसकी इस करतूत पर वहां मौजूद शिक्षकों को भनक हुई। तभी वीक्षक की नजर उसके कान में लगे ब्लूटूथ पर पड़ी और इसपर उससे पूछताछ की गयी। लेकिन पकड़े जाने के डर से धनंजय ने ब्लूटूथ को छिपाने के क्रम में उसे कान के काफी अंदर घुसा लिया। इसके बाद वह दर्द से परेशान होने लगा। वीक्षक ने फौरन इसकी सूचना मजिस्ट्रेट व पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। उसके कान के अंदर से ब्लूटूथ को निकालने के लिए सदर अस्पताल लाया गया। लेकिन प्रारंभिक इलाज के बाद गंभीर स्थिति देख एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया। परीक्षा में नक़ल करने के बाद पकड़े जाने पर ब्लूटूथ ही कान में घुसा दिया।

यह भी पढ़ें- नित्यानंद का बयान, CAA के खिलाफ विपक्ष फैला रहा है गलत अफवाह

Image result for bihar me अभ्यर्थियों ने की सिपाही बहाली परीक्षा में नकल

इधर गोपाल साह इंटर कॉलेज केंद्र पर दूसरे की जगह परीक्षा दे रहा छात्र को गिरफ्तार किया गया। बताया जा रहा है कि औरंगाबाद शेखपुरा का रहने वाले नीतीश कुमार की जगह औरंगाबाद का रहने वाला जितेंद्र कुमार पकड़ा गया। इस मामले में केंद्राधीक्षक उषा किरण सिन्हा ने नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कर युवक जितेंद्र को पुलिस को सौंप दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *