Sat. Oct 31st, 2020

17वें विधानसभा चुनाव में पीएम मोदी ने दी इतने करोड़ की योजनाओं की सौगात

योजनाओं की सौगात

बीते रविवार 13 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए वर्चुअल कार्यक्रम में बिहार के लिए 901 करोड़ की योजनाओं की सौगात पेश की गई। अभी तक बिहार के लिए 12 सौ करोड़ रुपए के विकास कार्यों के तोहफ़े का ऐलान किया जा चुका है। अगले चार और कार्यक्रमों में 15 हज़ार करोड़ से ज़्यादा की योजनाओं की सौगात पेश की जाने वाली है।

पीएम ‘वन टू वन’ संवाद द्वारा जुड़ रहे लोगों से

रविवार की पीएम मोदी द्वारा एलपीजी व सीएनजी परियोजनाओं के ज़रिए हर वर्ग के मतदाताओं को साधने का संदेश दिया गया। सीएनजी के जरिए जहां अगड़े वर्ग और युवाओं को साधा गया, वहीं, उज्ज्वला योजना के जरिए कमजोर, अति पिछड़े और अनुसूचित जाति के बीच एलपीजी सिलिंडर की पहुंच सुनिश्चित कराने का संदेश दिया गया। साथ ही पीएम योजनाओं के लाभार्थियों से वन टू वन संवाद में जुटे हुए हैं।

पिछले दो कार्यक्रमों के जरिए प्रधानमंत्री ने दो अलग अलग संदेशों की घोषणा की है। पहले कार्यक्रम में पीएम ने राजग में आपसी एकता के प्रदर्शन पर ज़ोर दिया था। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरहाना भी की थी। वहीं, पीएम और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा द्वारा योजनाओं के लाभार्थियों से ‘वन टू वन’ संवाद करना बिहार की राजनीति में नया संकेत माना जा रहा है।

जानिए ये और ख़ास बातें

आगे 15, 18, 21 और 23 सितंबर को प्रधानमंत्री द्वारा चार और मंत्रालयों से जुड़ी परियोजनाओं का शिलान्यास, लोकार्पण और शुभारंभ किया जाएगा। इस तरह राजग 16 हजार करोड़ रुपये से ज़्यादा की विकास योजनाओं के जरिए 17वीं विधानसभा चुनाव की राह आसान बनाने में जुट गया है।

बता दें कि आगे सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट, पेयजल आपूर्ति योजना, रिवर फ्रंट प्रोजेक्ट, रेलवे लाइन, रेलवे ब्रिज, सड़कें और गंगा पर पुल जैसी कई नई सौगातों को पीएम पेश करने वाले हैं। बीते 10 सितंबर को 294 करोड़ रुपये से ज़्यादा की मछली पालन और पशुपालन से संबंधित योजनाओं के शुभारंभ के दौरान अलग-अलग जिलों में कई योजनाओं की शुरुआत की गई थी। सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री कोरोना संकट में फंसे प्रवासी कामगारों, बाढ़ की समस्या से जूझ रहे लोगों से भी रूबरू होंगे।

 

अन्य खबरें पढ़ें सिर्फ बिहार एक्सप्रेस पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *