Sun. Jan 19th, 2020

RJD नेताओं के बदले तेवर , बदल गए अंदाज ! क्या अकेले चलने की राह पर है RJD ?

RJD नेताओं के बदले तेवर , बदल गए अंदाज ! क्या अकेले चलने की राह पर है RJD ?

बदल गए अंदाज : आरजेडी नेताओं के तेवर इन दोनों जिस तरह से बदले बदले से हैं और अपने सहयोगियों पर जिस अंदाज में आरजेडी आक्रामक दिख रही है ऐसे में सवाल उठने लगा है कि कहीं ऐसा तो नहीं की आरजेडी अपने सहयोगियों से पीछा छुड़ाना चाहती है? दरअसल यह स्पष्ट देखा जा रहा है कि तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाने की बात हो या फिर सीटों के बंटवारे का सवाल, आरजेडी अपने सहयोगियों को इन दिनों कोई खास तवज्जो नहीं दे रही।ऐसे में बड़ा सवाल ये है कि आरजेडी कहीं 2020 के चुनाव में एकला चलो की राह पर तो नहीं है?

आरजेडी का ओवरकॉन्फिडेंस ले न डूबे :

राजनीतिक जानकारों की मानें तो झारखंड की जीत में लालू के किंगमेकर बनने के बाद से आरजेडी के नेता-कार्यकर्ता उत्साहित हैं। बिहार में पार्टी के अध्यक्ष  जगदानंद सिंह जैसे नेता के तेवर से साफ लगता है कि आरजेडी को खुद पर कॉन्फिडेंस भी है। गौरतलब है कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के बेहद करीबी माने जाने वाले विधायक विजय प्रकाश ने भी सभी 243 सीटों पर चुनाव लड़ने की बात कह कर महागठबंधन के भीतर भूचाल ला दिया था। इसके बाद से ही पूर्व सीएम जीतनराम मांझी और उनकी पूरी टीम ने जगगदानंद सिंह से लेकर पार्टी के अधिकांश नेताओं के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।हालांकि जानकार बताते हैं कि पार्टी की इसमें एक बड़ी स्ट्रेटजी भी हो सकती है। मसलन तेजस्वी को सीएम चेहरा और लालू को कोर्डिनेटर बनाने के बहाने आरजेडी गठबंधन के छोटे दलों पर दबाव बनाकर उनपर हावी होना चाहती है। ऐसा इसलिए कि मांझी-कुशवाहा जैसे नेता लोकसभा चुनाव की तरह उनपर 2020 में भी सीटों को लेकर दवाब ना बना सकें।

बदल गए अंदाज : कांग्रेस को लेकर असमंजस

राजनीतिक जानकार मानते हैं कि जगदानंद सिंह और विजय प्रकाश ये दोनों तेजस्वी के सबसे भरोसेमंद नेता हैं और इनके बयान का मतलब है कि उनकी रजामंदी भी है। साफ है कि आरजेडी पूरी रणनीति के साथ अपने सहयोगियों पर इस तरह से आक्रामक है। अंदरखाने में इस बात की खूब चर्चा है कि आरजेडी माइनस मांझी,  मुकेश सहनी और उपेंद्र कुशवाहा के ही 2020 के चुनाव लड़ने की तैयारी में है। हालांकि कांग्रेस को लेकर अभी पार्टी असमंजस में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *