Sun. Feb 28th, 2021

AIMIM की जीत पर बोली JDU – बिहार की राजनीति के लिए शुभ नहीं

AIMIM की जीत पर बोली JDU - बिहार की राजनीति के लिए शुभ नहीं
बिहार की राजनीति : असदुद्दीन ओवैसी की ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लमीन के प्रत्याशी कमरुल होदा ने किशनगंज सीट से शानदार जीत दर्ज की है। इसी के साथ वे बिहार विधानसभा में प्रवेश करने वाले AIMIM के पहले विधायक हो जाएंगे। जाहिर है सियासी जानकारों की नजर में इसका असर सीमांचल की राजनीति पर साफ देखा जाएगा। जाहिर है इसका सीधा असर जेडीयू और आरजेडी (JDU-RJDU) के वोट बैंक पर पड़ेगा। हालांकि जेडीयू ओवैसी की पार्टी की जीत को बिहार के लिए शुभ नहीं मान रही है। अब क्यों नही मान रही ये तो वही जानते होंगे।

बिहार की राजनीति : बिहार के लिए खतरा :

जेडीयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने किशनगंज में ओवैसी की पार्टी की जीत पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘ओवैसी की पार्टी अतिवादी विचारों के लिए जानी जाती है, उसका जीतना धर्मनिरपेक्ष दलों की ग़लत राजनीति का नतीजा है और बिहार की धर्म निरपेक्ष राजनीति के लिए ये  शुभ नहीं है। ये तो सबको पता है की उसका मुखिया ही बेकार है जो धर्म के नाम पे लोगो को आपस मे लड़ाने का काम करता है।

जेडीयू को कोई फर्क नहीं पड़ेगा :

जेडीयू नेता ने दावा किया कि इससे जेडीयू को कोई फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि जब ओवैसी की पार्टी लड़ रही थी तो 2015 में  हमने उसे नगण्य किया था और आगे भी 2020 में वैसा ही होगा। उन्होंने कहा कि ये कांग्रेस और आरजेडी जैसी पार्टियों के लिए गंभीर चुनौती बनेगा। बता दें कि AIMIM ने अब बिहार विधानसभा में एंट्री मार ली है। बिहार के किशनगंज सीट पर उनकी पार्टी के उम्मीदवार कमरुल होदा ने शानदार प्रदर्शन करते हुए सभी अनुमानों को खारिज कर दिया और बीजेपी की प्रत्याशी स्वीटी सिंह को मात दे दी थी।

ये खबरें भी पढ़ें-

बिहार विधानसभा उपचुनाव 2019 : पूरे चुनाव का लेखा-जोखा

आज से राजगीर में विश्व शांति स्तूप 50वें वार्षिकोत्सव की शुरुआत, राष्ट्रपति कोविंद होंगे मुख्य अतिथि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिहार एक्सप्रेस ताज़ा ख़बरें