Tue. Jan 26th, 2021

तेजस्वी खुद को बता बैठे भावी सीएम , अन्य दलों ने जताया ऐतराज

तेजस्वी खुद को बता बैठे भावी सीएम , अन्य दलों ने जताया ऐतराज
भावी सीएम : बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने खुद को राष्ट्रीय अध्यक्ष नहीं बनाए जाने और लालू प्रसाद यादव के 11वीं बार अध्यक्ष बनने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के लिए कभी रेस में था ही नहीं। इसी दौरान उन्होंने ये भी कहा कि मुझे नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी मिली है उसे सम्भाल रहा हूं। पार्टी ने जो मुख्यमंत्री पद के लिए जो प्रस्ताव पारित किया है उसे देख रहा हूं। यानि उन्होंने साफ तौर पर खुद को बिहार के भावी सीएम उम्मीदवार के तौर पर प्रोजेक्ट कर दिया है। अब इसी बात पर बिहार की सियासत में उबाल है। जेडीयू-बीजेपी ने जहां इसपर तंज कसा है वहीं, महागठबंधन में शामिल दलों ने ऐतराज जताया है। हालांकि राजद ने उनके इस बयान का समर्थन किया है।

कांग्रेस बोली ये अंदुरुनी मामला :

हालांकि कांग्रेस ने इसे राजद का अंदरुनी मामला बताया है। पार्टी के प्रवक्ता राजेश राठौर ने कहा कि  चुनाव में महागठबंधन मिल कर चुनाव लड़ेगा ये तय है, लेकिन मुख्यमंत्री का उम्मीदवार कौन होगा, ये चुनाव परिणाम के बाद तय होगा। तेजस्वी यादव राजद के मुख्य मंत्री पद के उम्मीदवार चुने गए हैं, ये राजद का मामला है।

भावी सीएम : जेडीयू-बीजेपी का तंज :

वहीं, पूर्व सीएम जीतन राम मांझी की पार्टी हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के प्रवक्ता दानिश रिज़वान का बयान आया कि तेजस्वी यादव राजद के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हो सकते हैं, लेकिन महागठबंधन के मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होगा ये महगठबंधन की बैठक में तय होगा। दूसरी ओर एनडीए में शामिल जेडीयू-बीजेपी ने इस मुद्दे पर तंज कसा है। जेडीयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने कहा कि नीतीश कुमार यहां के सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री हैं और सीएम का कोई पद ख़ाली नहीं है। तेजस्वी को नेता प्रतिपक्ष के लिए आवेदन करना चाहिए।जबकि तेजस्वी यादव के सी एम बनने की इच्छा पर बीजेपी सांसद डॉ सीपी ठाकुर ने कहा कि यह उनके घरेलू मामला है। पहले दोनों भाई में तय हो जाए कि कौन आगे बढ़ेंगे।
यह भी पढ़ें :-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिहार एक्सप्रेस ताज़ा ख़बरें