Mon. Dec 16th, 2019

जानिए कब से पटना के फुटपाथी दुकानदार भी इस्तेमाल करेंगे LPG गैस

जानिए कब से पटना के फुटपाथी दुकानदार भी इस्तेमाल करेंगे LPG गैस
पटना के फुटपाथी दुकानदार : पटना में लगातार बढ़ते प्रदूषण के स्तर को लेकर न सिर्फ सरकार, बल्कि आम लोग भी चिंतित है। वहीं, पर्यावरण प्रदूषण को रोकने को लेकर सोमवार को पटना प्रमंडल के आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने समीक्षा बैठक की। बैठक में अग्रवाल ने निर्देश दिया कि कोयला या गोइठा से चुल्हा जलाकर खाना बनाने वाले फुटपाथी दुकानदारों  के चूल्हे को एलपीजी गैस में कनवर्ट किया जाए। ये प्रदूषण को रोकने का एक नया तरीका है जो अच्छा भी है।

बैठक में शामिल रहे ये लोग :

इस बैठक में बिहार-झारखंड के जीएम (एलपीजी) उदय कुमार, एजीएम (एलपीजी) सर्वेश सिन्हा, क्षेत्रीय पदाधिकारी शालिग्राम प्रकाश, मुख्य प्रबंधक योजना समन्वयक बीणा सिंह, क्षेत्रीय विकास पदाधिकार सर्वेश नारायण यादव समेत इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के कई पदाधिकारी भी मौजूद रहे। इतने लोगो की मौजूदगी में ये बैठक काफी देर तक चली। इस बैठक में काफी कुछ तय किया गया ,लेकिन फिलहाल वो सारी चीजों का नही पता जो अंदर हुवा। लेकिन एक बात तो तय है प्रदूषण को रोकने के लिए ये तरीका भी काफी मदद करेगा। बैठक में इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के कई पदाधिकारी भी मौजूद रहे जो की एक अच्छी खबर रही।

पटना के फुटपाथी दुकानदार : 13 नवंबर से शुरू होगा काम :

13 नवंबर 2019 से फुटपाथी दुकानदारों को एलपीजी गैस का हाथों-हाथ कनेक्शन देने का काम शुरू किया जाएगा। प्रमंडल आयुक्त ने यह भी निर्देश दिया कि दुकानदारों को एलपीजी कनेक्शन के साथ चूल्हा 2500 रुपए की लागत पर दिया जाए। बैठक में यह भी कहा गया कि पांच किलोग्राम सिलेंडर का मूल्य 1500 रुपए बिहार सरकार के बीएसआरडीसी और चूल्हे का मूल्य 1000 रुपए इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन सीएसआर फंड से देगी।एलपीजी गैस कनेक्शन देने से पहले उन सभी दुकानदारों का आधार कार्ड, मोबाइल नंबर और घर के पते को सत्यापित किया जायगा। दुकानदारों को एलपीजी गैस चूल्हे पर खाना बनाने का प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। प्रशिक्षण देना भी एक बहुत बड़ा कार्य होगा क्योंकि जब तक लोग जानेंगे नही तब तक कैसे करेंगे अपना काम। अब देखना ये होगा की ये सफल कितना हो पाता है ।
ये खबरें भी पढ़ें-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *