Sat. Nov 28th, 2020

भीड़ ने पीटा:बच्चा चोरी का था शक,सड़क पे दौड़ा-दौड़ा महिलाओं को पीटा

भीड़ ने पीटा:बच्चा चोरी का था शक,सड़क पे दौड़ा-दौड़ा महिलाओं को पीटा
भीड़ ने पीटा:बिहार में आपने सुना या पढ़ा ही होगा की अभी बिहार के हालात कैसे है।आज कल बिहार में भीड़ ही सबपे भारी है,भीड़ से बढ़ कर कोई है ही नही।बिहार की राजधानी पटना से एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां अनियंत्रित भीड़ में दो महिला और एक युवती की अच्छी खासी पीटाई कर दी। इस घटना से आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई। कहा जा रहा है कि ये महिलाएं बच्चा चुरा रही थीं। सूचना के बाद मौके पर पहुंची मालसलामी थाना पुलिस ने भीड़ से तीनों को बचाया। इस दौरान महिलाओं का पीछा करते हुए भीड़ थाने तक पहुंच गई। इसके बाद पुलिस ने किसी तरह भीड़ को समझा-बुझा कर शांत कराया और वापस भेजा।आप हिम्मत देख सकते है भीड़ की,कि वो पुलिस के ले जाने के बाद मारने के लिए थाने भी पहुँच गई।इस तरह से कैसे हालात को सुधारा जा सकता है बिहार के,किसी को समझ नही आ रहा और नाही सरकार इसपे कुछ कर पा रही है।

भीड़ ने पीटा:दौड़ा-दौड़ा के पीटा:-

बता दें कि पिटाई के दौरान महिलाएं जान बचा कर सड़क पर इधर-उधर भाग रही थीं और भीड़ उनको खदेड़ रही थी। पिटाई से एक महिला अचेत होकर गिर पड़ी। कुछ महिलाएं भी मारपीट करने लगीं। इस बीच पुलिस को सूचना मिली। इसके बाद मालसलामी थानाध्यक्ष सुदाम कुमार सिंह अन्य पुलिस दल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे।महिलाओं को छुड़ाने पर लोगों का गुस्सा पुलिस पर ही फूट पड़ा। कुछ लोगों ने पथराव को प्रयास किया। पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए भीड़ को भगा दिया।ऐसे कब तक बिहार में चलेगा?आय दिन ऐसी घटना सुनने को मिलती है,किसी को कुछ समझ नही आ रहा की आखिर बिहार में हो क्या रहा है अभी।

दैनिक भास्कर के मुताबिक:-

दैनिक भास्कर के मुताबिक, पीड़ित महिलाएं कटरा बाजार में किराए पर रहती हैं। एक पीड़ित महिला ने बताया कि वैशाली में रह रही दूर की रिश्तेदार अपनी बेटी के साथ घर पर मिलने के बाद गांव लौट रही थी। दुकान पर खरीदारी के दौरान मोहल्ले का परिचित बच्चा मिल गया।उससे महिलाएं बातचीत करने लगीं। इसी दौरान किसी ने अफवाह फैलाई कि महिलाएं बच्चा चोरी कर रही हैं। इसके बाद मामला बढ़ गया। उधर, थाने पहुंची भीड़ से पुलिस ने स्पष्ट कहा कि किसी बच्चे की चोरी नहीं हुई है। तब लोग वहां से हटे। मालसलामी थानाध्यक्ष ने बताया कि मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर जांच व गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जाएगी।अब आप खुद सोचिए की भीड़ ने कितना गलत काम किया,जिन महिलाओं ने चोरी के बारे में सोचा भी नही होगा उसका ये हाल कर दिया गया।मतलब साफ है की बिहार में अभी भीड़तंत्र हावी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *