Tue. Jan 26th, 2021

किंगमेकर की भूमिका में रहे लालू ! पढ़ें JMM की जीत की इनसाइड स्टोरी

किंगमेकर की भूमिका में रहे लालू ! पढ़ें JMM की जीत की इनसाइड स्टोरी
किंगमेकर लालू : झारखण्ड चुनाव में जिस तरह से महागठबन्धन ने तख्ता पलट किया है और हेमंत सोरेन की वापसी हुई है बीजेपी खेमे में हड़कंप मचा हुआ है तो वहीं लालू की भूमिका एक किंगमेकर के तौर पर हुई है अब तो लोग ये भी कहने लगे हैं कि लालू है तो मुमकिन है। यहा लालू का जादू आखिरकार चल ही गया,बीजेपी बड़ी पार्टी होते हुवे भी हार गई।

किंगमेकर लालू : जेल के अंदर से खेल

झारखंड में जिसतरह से महागठबन्धन की जीत हुई है और समूचे देश भर में विपक्ष आज जश्न मना रहा है इसके पीछे बड़ी भूमिका लालू यादव की है। हेमंत सोरेन के नेतृत्व में भले ही चुनाव लड़ा गया और उन्हें बड़ी जीत हासिल हुई लेकिन यहां तक पहुंचाने में जो लालू ने पर्दे के पीछे से अपना किरदार निभाया है उसी कारण उन्हें आज किंगमेकर कहा जा रहा है। दरअसल लालू ने जेल के भीतर से ही महागठबन्धन की ऐसी मजबूत नींव रखी जिससे विरोधी धरासायी हो गए।
महागठबन्धन की एकजुटता से लेकर सीट बंटवारे और उम्मीदवारों के चयन में भी लालू की अहम भूमिका रही। केवल बाबू लाल मरांडी को एक साथ करने में लालू सफल नहीं हो सके लेकिन सोरेन से लेकर कांग्रेस और फिर वामदलों को एकसाथ रखकर लालू ने दिखा दिया कि वो जोड़तोड़ के महारथी हैं जिसका जबर्दस्त फायदा भी हुआ। लालू जेल से ही किंगमेकर का काम कर गए और भाजपा इसे पढ़ नही सकी।

तेजस्वी को मिली सीख

झारखंड की जीत में महागठबन्धन की एकजुटता एक बड़ा आधार है। लालू गठबंधन के संयोजक की भूमिका में रहे तो उन्होंने गठबंधन की एकजुटता के लिए सबसे पहले खुद का बलिदान दिया। 14 सीटों पर दावेदारी के बावजूद भी लालू 7 सीटों पर समझौता कर गए। लालू जानते थे कि झारखंड में झामुमो का बड़ा जनाधार है तो उन्होंने हेमंत सोरेन के लिए अपनी सीटें छोड़ दीं। लोकसभा चुनाव में तेजस्वी यहीं पर चूक गए। लालू की तरह तेजस्वी अपने सहयोगियों को एकजुट करने में बहुत हद तक नाकाम रहे जिसके चलते बिहार के उपचुनाव में महागठबन्धन पूरी तरह से बिखर गया। तेजस्वी के लिए झारखंड का चुनाव एक सबक है। ये सबक से तेजस्वी सीखेंगे और 2020 में भी ऐसा ही कुछ बिहार के लिए करते नजर आ सकते है।
यह भी पढ़ें-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिहार एक्सप्रेस ताज़ा ख़बरें