Thu. Jun 4th, 2020

बिहार के केला-लीची को मिलेगा बड़ा बाजार , फतुहा में बनेगा किसान रेल….

बिहार के केला-लीची को मिलेगा बड़ा बाजार , फतुहा में बनेगा किसान रेल....
मिलेगा बड़ा बाजार : बिहार के हाजीपुर के केला, मुज़फ़्फ़रपुर की लीची और मिथिला के मखाना को अब बड़ा बाजार मिलने वाला है। बिहार के उत्पाद अब महानगरों में भी बेचे जा सकेंगे और किसानों को बड़ा फायदा हो सकेगा। केंद्र द्वारा घोषित किसान रेल बिहार से भी चलेगी और इसके लिए फतुहा में कार्गो सेंटर बनाने की भी तैयारी चल रही है।

मिलेगा बड़ा बाजार : कम मुनाफा से होता था घाटा

बिहार के किसानों को बड़ा उत्पादक होने के बावजूद बाजार नहीं मिल पाता था इस कारण इन्हें ज्यादा फायदा नहीं हो पाता था। अब केंद्र की किसान रेल की घोषणा के बाद बिहार के किसानों को बड़ा बाजार मिल सकेगा जिससे ज्यादा आमदनी हो सकेगी। केंद्र द्वारा घोषित किसान रेल बिहार से भी होकर चलेगी जिससे किसानों को बड़ा बाजार मिल सकेगा।बिहार में ऐसी कई फसले हैं जिसका सबसे ज्यादा उत्पादन बिहार में ही होता है पर बाजार नहीं मिलने के कारण दाम अच्छे नहीं मिल पाते हैं। हाजीपुर का केला और मुज़फ़्फ़रपुर की लीची पूरी दुनिया में मशहूर है। इसी तरह दरभंगा और मधुबनी का मखाना, भागलपुर की कतरनी की भी हर जगह मांग है। किसान रेल के बिहार से गुजरने के बाद सभी उत्पादों को किसान बाहर भेज पाएंगे जिससे किसानों को ज्यादा मुनाफा होगा।

फतुहा में बनेगा रेलवे कार्गो सेंटर :

किसानों के फल और सब्जियों को बाहर भेजने और सुरक्षित स्टोर के लिए फतुहा में नया कार्गो सेंटर बनाने की भी योजना है। इस कार्गो सेंटर में उत्पादों को सुरक्षित रखने के लिए नई तकनीक का सहारा लिया जाएगा। इसके तहत कोल्ड स्टोरेज और फल खराब ना हो इसका भी ख्याल रखा जाएगा। इस कार्गो सेंटर का निर्माण सेंट्रल रेल साइड वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन बनायेगा।केंद्र ने किसान रेल के जरिये किसानों की आमदनी दोगुनी करने का प्लान बनाया है। इस योजना के तहत कृषि उत्पादों का भंडारण, प्रसंस्करण, और विपणन समस्या का भी समाधान किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *