Mon. Jun 1st, 2020

पवन वर्मा पर भड़के JDU नेता अजय आलोक, कहा – शांत रह कर अपना ….

पवन वर्मा पर भड़के JDU नेता अजय आलोक , कहा - शांत रह कर अपना ....
पवन वर्मा पर भड़के : बिहार में विधानसभा चुनाव जैसे जैसे नजदीक आ रहा वैसे वैसे सियासत की गर्मी भी बढ़ती जा रही है। बिहार में सियासी हलचलों के बीच जेडीयू नेता अजय आलोक ने एक बार फिर पवन कुमार वर्मा पर जबरदस्त हमला किया है।उन्होंने कहा कि जब वह पार्टी से अलग हो ही गए हैं तो शांत रहें और अपना धंधा-पानी करें। दरअसल, पूर्व राज्यसभा सांसद पवन वर्मा ने दिल्ली में बीजेपी के साथ पार्टी के गठबंधन का विरोध करते हुए खुला खत लिखा था और सीएम नीतीश कुमार पर कई गंभीर आरोप लगाए थे।

पवन वर्मा पर भड़के : अजय आलोक ने साधा निशाना

पवन वर्मा पर जेडीयू नेता अजय आलोक ने निशाना साधते हुए कहा, ‘जब नीतीश सीएम बने थे, तब पवन वर्मा का जन्म भी नहीं हुआ था। वह अपनी औकात में रहकर बात करें। उनको जानता ही कौन है? रिटायरमेंट के बाद पवन पैरों में गिर गए थे। इनको शर्म आनी चाहिए, उन्हें राज्यसभा की पेंशन भी नीतीश के कारण ही मिल रही है।’गौरतलब है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लंबी खींचतान के बाद पार्टी उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर और पूर्व राज्यसभा सांसद पवन वर्मा को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है।जेडीयू के मुताबिक, ये दोनों नेता लगातार पार्टी के खिलाफ बयानबाजी कर रहे थे। पार्टी ने कहा कि प्रशांत किशोर और पवन वर्मा लगातार पार्टी नेतृत्व के खिलाफ सवाल खड़ा कर रहे थे। सीएम नीतीश कुमार ने उन्हें बार-बार कहा था कि वह अपनी बात को पार्टी के सही मंच पर रखें। मगर इन दोनों लोगों ने लगातार पार्टी के खिलाफ आवाज बुलंद की और इसलिए पार्टी ने इन्हें बाहर निकाल दिया।

भारतीय विदेश सेवा अधिकारी रहे हैं पवन वर्मा :

राजनीति में आने से पहले पवन वर्मा एक पूर्व भारतीय विदेश सेवा अधिकारी रहे हैं। साथ ही वह बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सलाहकार भी रहे। जेडीयू ने उन्हें साल 2014 में राज्यसभा भेजा। वह जून 2014 से जुलाई 2016 तक राज्यसभा सांसद रहे। पवन वर्मा प्रमुख अंग्रेजी अखबारों के लिए स्तंभकार भी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *