Thu. Jan 21st, 2021

बिहार में रहते हैं तो खरीद लें दवाएं , इन तीन दिन बंद रहेंगे मेडिकल स्टोर्स

बिहार में रहते हैं तो खरीद लें दवाएं , इन तीन दिन बंद रहेंगे मेडिकल स्टोर्स
बंद रहेंगे मेडिकल स्टोर्स : सोमवार की देर शाम बुलाई गई बैठक में बिहार केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन ने इस पर अंतिम रूप से मुहर लगा दी है। दरअसल बिहार सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने सभी 52 हज़ार दवा दुकानदारों को इस शर्त पर दवा बेचने की अनुमति देने का फैसला किया कि उनकी दुकान में अनिवार्य रूप से एक फार्मासिस्ट हो। लेकिन दवा दुकानदारों ने सरकार की शर्त को इस आधार पर खारिज कर दिया है कि बिहार में अभी मात्र साढ़े सात हजार फार्मासिस्ट हैं, ऐसे में 52 हज़ार दुकानों के लिए फार्मासिस्ट की व्यवस्था कैसे हो पाएगी।

अध्यक्ष परसन कुमार ने बताया की :

बिहार केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष परसन कुमार ने बताया की 3 दिनों की हड़ताल में केवल सरकारी अस्पतालों और बड़े नर्सिंग होम में ही दवा की आपूर्ति की जाएगी। ऐसा बिहार ड्रग कंट्रोलर के विशेष अनुरोध पर किया गया है। एसोसिएशन के महासचिव अमरेंद्र कुमार ने बताया कि सरकार का फैसला तुगलकी फरमान है, जिसका पालन करना व्यवहारिक रूप से संभव नहीं है। एसोसिएसन ने कहा है कि हज़ारों दवा दुकानें पुरानी हैं, जिनका लाइसेंस पहले ही जारी हो चुका है। ऐसे में सरकार जबकि नई दुकानों के लिए फार्मासिस्ट के माध्यम से दवा बिक्री अनिवार्य कर चुकी है, तो सभी दुकानों के लिए फार्मासिस्ट की बहाली की अनिवार्यता का फैसला सही नहीं है।

बंद रहेंगे मेडिकल स्टोर्स : ड्रगिस्ट एसोसिएशन की चेतावनी

बिहार केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन ने चेतावनी दी है कि अगर सरकार उनकी बात नहीं मानती है तो मार्च में बिहार की सभी दवा दुकानों को अनिश्चितकाल के लिये बन्द कर दिया जाएगा। एसोसिएशन ने कहा है कि अनिश्चितकाल हड़ताल के 15 दिन पहले से ही दवा की खरीद बन्द कर दी जाएगी।3 दिनों तक दवा दुकानों को बन्द रखने का यह फैसला बड़ा फैसला माना जा रहा है। इसके पहले साल 2000 में दवा दुकानदारों ने टीओटी के मुद्दे पर 7 दिनों तक दवा दुकानों में हड़ताल कर दी थी, जिसे लेकर काफी बवाल मचा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिहार एक्सप्रेस ताज़ा ख़बरें