Sun. Nov 1st, 2020

पुणे में दर्दनाक हादसा : जानिए बिहार के कितने मजदूरों की जानें गईं?

पुणे में दर्दनाक हादसा

पुणे में दर्दनाक हादसा : महाराष्‍ट्र के पुणे के कोंढवा इलाके में एक दर्दनाक हादसा हुआ है। घटनास्थल में एक सोसाइटी की दीवार झुग्गी-झोपड़ियों पर गिरने के कारण बिहार के 15 मजदूरों की मौत हो गई है। इनमें कटिहार के 13 तथा सारण के दो मजदूर शामिल थे। इस घटना की सूचना प्राप्त होने पर कटिहार जिले के बलरामपुर थाना क्षेत्र के बघार गांव में  कोहराम मचा हुआ है। पुणे में बारिश और भूस्खलन के वजह से सभी मजदूरों की मौत हो गयी। बिहार के सभी मृतकों के शवों को महाराष्ट्र से कटिहार व सारण लाया जाएगा।

पुणे में दर्दनाक हादसा : कटिहार में मचा मातम

शुक्रवार की शाम को महाराष्ट्र के पुणे में हुए हादसे में कटिहार जिले के 13 मजदूरों की मौत हो गई। यह दुर्घटना एक सोसाइटी की 60 फीट ऊंची दीवार गिरने के कारण हुई। इस कारण बगल की झुग्गियों में रह रहे लोगों पर गाज गिरी। बता दें कि मृतकों में एक ही गांव के आठ लोग शामिल हैं। इनमें चार बच्चे और तीन महिलाएं भी हैं। सभी मृतक बलरामपुर प्रखंड के बघार, बाइसबिघी व डटियन गांव के निवासी थे। इनमें बघार गांव के दो दंपती व उनके चार बच्चे हैं। शनिवार को पौ फटते ही इन गांवों में करुण क्रंदन से माहौल गमगीन हो गया। सूचना मिलते ही बलरामपुर के सीओ, बीडीओ के साथ-साथ बारसोई एसडीओ भी घटनास्थल पर पहुंच परिजन को सांत्वना देने में जुट गए।

पटना में एक और गैंगरेप : परिजनों से मिलने आई लकड़ी के साथ हुआ शर्मनाक हादसा!

पुणे में दर्दनाक हादसा : सारण के दो मज़दूर दुर्घटना की चपेट में!

वहीं शुक्रवार को हुई इस घटना में सारण के भी दो मजदूरों की जान चली गई। मृतकों में परसा थाना क्षेत्र के लजतरहिया दीघरा निवासी लक्ष्मीकांत सहनी (33) और दरियापुर थाना क्षेत्र के दरिहारा भुआल गांव निवासी सुनील सिंह (35) थे। सूचना प्राप्त होने पर परिजनों ने सुबह सांसद प्रतिनिधि से मुलाकात कर मदद मांगी। सांसद प्रतिनिधि राकेश कुमार ने सांसद राजीव प्रताप रूडी को घटना से अवगत कराया। सांसद द्वारा पुणे के सांसद की सहायता से वहां के डीएम से आपदा के अनुसार मृतक के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की सहायता राशि देने व हवाई जहाज से शव भेजने की व्यवस्था करने को कहा गया। हवाई जहाज द्वारा शाम को दोनों मृतकों का शव पटना पहुंचाया गया। फिर वहां से गांव लाया गया।

ट्रेन में टला हादसा- जानिए पूरी घटना

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार भी अफसोस में!

पुणे में दीवार गिरने से बिहार के 15 मजदूरों की मौत पर सीएम नीतीश कुमार ने अफ़सोस ज़ाहिर किया और मृतकों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की। साथ ही सीएम नीतीश द्वारा मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये की अनुदान राशि देने का एलान किया गया है। वहीं घायलों को 50 हजार की राशि का अनुदान देने का भी निर्देश दिया गया।

बिहार में सड़क हादसा 8 लोगों की दर्दनाक मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *