Sat. Oct 31st, 2020

वृद्ध की लाठी से पिटाई वाली हत्या जिसके पीछा था यह गहरा राज़

वृद्ध की लाठी से पिटाई

वृद्ध की लाठी से पिटाई : बिहार के औरंगाबाद में एक वृद्ध की लाठी से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई है। घटना जिले के मदनपुर थाना क्षेत्र के नयन बिगहा गांव की है। कहा जा रहा है कि मृतक बलदेव झाड़ – फूँक का काम करते थे और उसी आरोप पर गांव के ही कुछ लोगों ने साथ मिलकर उनकी हत्या कर दी।

वृद्ध की लाठी से पिटाई : पुलिस पहुंची देर से

घटना की सूचना पाकर मदनपुर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए औरंगाबाद सदर अस्पताल भेज दिया। इस बीच, पुलिस ने गांव के पांच लोगों को भी हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ कर रही है।

जानकारी के अनुसार, कल रात किसी बीमारी के कारण गाँव के वृक्ष भुइया की मौत हो गई थी, जिसके बाद मृतक के परिजनों ने उस पर दिन में जादू-टोना करने का आरोप लगाया और उसकी बेरहमी से पिटाई की जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

औरंगाबाद के एसडीपीओ अनूप कुमार ने कहा कि पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है और आरोपियों को हिरासत में ले लिया है

काला जादू, टोने, टोटके या अन्य किसी के द्वारा किया कराया जैसी बातें भी समाज में प्रचलित है। हालांकि इनकी सचाई के बारे में कोई नहीं जानता। कुछ लोग मानते हैं कि काला जादू होता है और कुछ लोग इसे वहम मानते हैं। अब यह तो शोध का विषय हो सकता है।

माना जाता है कि काला जादू उसे कहते हैं जिसके माध्यम से व्यक्ति अपने स्वार्थ को साधने का प्रयास करता है या किसी को नुकसान पहुंचाना के काम करता है। बंगाल और असम को काला जादू का गढ़ माना जाता रहा है। काले जादू के माध्यम से किसी को बकरी बनाकर कैद कर लिया जाता है या फिर किसी को वश में कर उससे मनचाहा कार्य कराया जा सकता है।

 

यह खबरें भी ज़रूर पढ़ें : –

सीनियर पासवान ने किया आगाह , रालोसपा प्रमुख पर बरसे

दरभंगा में एनएसयूआई बनाम एबीवीपी से यूनिवर्सिटी कैंपस में मची खलबली

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *