Tue. Nov 12th, 2019

नीतीश कुमार आए सामने- सवालों पर तोड़ी चुप्पी

नीतीश कुमार

 

इन दिनों जेडीयू के ऊपर उठ रहे तमाम सवालों पर नीतीश कुमार ने अपनी चुप्पी तोड़ दी है। जी हां आपको बता दे कुछ देर पहले जहां केसी त्यागी ने अपनी चुप्पी तोड़ी थी और तमाम सवालों पर जमकर हमला बोला था वहीं अब नीतीश कुमार ने भी कुछ ऐसा ही किया है वह सामने आए और उन्होंने तमाम सवालों पर इत्मीनान से जवाब दिया। आइए जानते हैं क्यों नीतीश कुमार आए सामने

नीतीश कुमार आए सामने- मंत्रिमंडल पर दिया जवाब:

मोदी मंत्रिमंडल में जेडीयू के नाम शामिल होने पर उठ रहे सवालों पर नीतीश कुमार ने चुप्पी तोड़ दी। जी हां आपको बताना चाहेंगे नीतीश कुमार ने बोला कि पार्टी को किसी भी तरह की सांकेतिक हिस्सेदारी नहीं चाहिए थी इसीलिए उन्होंने मंत्रिमंडल में शामिल होने से इनकार कर दिया। उन्होंने यह भी कहा कि जिस तरह जेडीयू आज भी बीजेपी के साथ है वैसे आगे भी वह बीजेपी के साथ ही रहेगी। बस इस मुद्दे को विपक्षी तिल का ताड़ बना कर प्रस्तुत कर रहे हैं। यही नहीं नीतीश ने यह भी बोला कि मंत्रिमंडल में शामिल होने से कोई भी फर्क नहीं पड़ता इसीलिए उन्होंने मंत्रिमंडल में शामिल होना सही नहीं समझा।

नीतीश कुमार आए सामने- नहीं बढ़ रही बीजेपी की साथ दूरी:

नीतीश ने कहा कि ‘ये सोचना गलत है कि उस फैसले से बीजेपी के साथ हमारी दूरियां बढ़ी हैं। हमारा काम करने का तरीका है और केंद्र में एक या दो मंत्री रहने से कोई फर्क नहीं पड़ता। हमने बिहार की भलाई के लिए एनडीए में वापस लौटने का फैसला किया और अंत तक इस पर कामय रहेंगे।’ सांकेतिक भागीदारी पर नीतीश कुमार ने यह बोला कि मैं जब दिल्ली से शपथ ग्रहण समारोह से लौट रहा था तभी मीडिया से मुखातिब होते हुए मैंने बता दिया था कि बीजेपी के पास पूर्ण बहुमत है और उसके बाद भी अगर वह किसी भी पार्टी को सांकेतिक भागीदारी दे रही है ये उसके ऊपर है पर हमें भागीदारी नहीं चाहिए।

नीतीश कुमार आए सामने- प्रशांत किशोर पर बोले नीतीश :

सूत्रों की मानें तो नीतीश कुमार से जब प्रशांत किशोर ममता बनर्जी के संबंध में बात की गई तो उन्होंने कहा कि “कोई पार्टी में रहकर पार्टी के खिलाफ काम नहीं कर सकता। अब वह बंगाल में क्या करेंगे, वह खुद बताएंगे। खुद ही सोच लेंगे, निर्णय लेंगे।”

ये खबरें भी पढ़ें-

केसी ने दी सफाई- अफवाहों पर जमकर बोला हमला

इंसेफेलाइटिस का कहर- पता चली वजह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *