Wed. Apr 1st, 2020

पान दुकानदार की हत्या, ससुर के पान दूकान पर थी दामाद की नजर

पान दुकानदार की हत्या

बिहार में कुछ समय पहले एक पान दुकानदार की हत्या की गयी थी। बीते मंगलवार इस मामले ने एक नया मोड़ ले लिया। पुलिस ने इस पुरे मामला का पर्दाफाश करते हुए बताया कि दूकानदार की हत्या उसके ही दामाद सूरज ने कराई थी। ससुर की हत्या के लिए दामाद सूरज ने सुपारी दी थी। सच सामें आने के बाद पुलिस ने आरोपित सूरज कुमार, हरनौत नालंदा निवासी रंजन कुमार, लोदीपुर खुसरूपुर निवासी संजीत कुमार एवं सबनहुआ हरनौत नालंदा निवासी विपिन कुमार को गिरफ्तार कर लिया। सूरज इन सभी को ससुर को जान से मारने की बात कही थी।

दामाद ने की ससुर पान दुकानदार की हत्या

इस मामले में ग्रामीण एसपी कांतेश कुमार मिश्र ने बताया कि चार फरवरी की रात दूकान बंद कर के दुकानदार मुन्ना प्रसाद आंबेडकर नगर स्थित घर जा रहा था। इस दौरान उसकी हत्या हो गयी थी और ये हत्या कि शाजिश किसी और ने नहीं बल्कि उसके दामाद सूरज ने ही रची थी। दरअसल, सूरज अपने ससुर के पान की दूकान पर कब्ज़ा करना चाहता था। जब वो ऐसा करने में कामयाब नहीं हो सका तो उसने दुकानदार मुन्ना प्रसाद के हत्या की सुपारी दे दी। पुलिस को दिग्भ्रमित करने के लिए लूट के दौरान हत्या करने का मामला दर्ज कराया था। पुलिस ने बीत मंगलवार इस पुरे मामले का पर्दाफाश कर दिया है।

 

Image result for बिहार में दुकानदार की हत्या

 

ससुर के हत्या कि सुपारी देकर आरोपित दामाद सूरज दूसरे शहर भाग गया था। सूरजइसलिए भगा ताकि पुलिस को उसकी साजिश का पता न चल सके। इस दौरान एक और बड़ा खुलासा हुआ, थानाध्यक्ष ने बताया कि तीन साल पहले छत्रपाल नगर बख्तियारपुर के रहने वाले सूरज ने दुकानदार की बेटी से जबरदस्ती बहका के शादी रचा ली थी। तब दुकानदार मुन्ना प्रसाद ने इस मामले में मुन्ना ने अपहरण का मामला सूरज के विरुद्ध दर्ज कराया था। उस मामले में पुलिस ने सूरज को जेल भेज दिया था। तभी से सूरज की ससुरालवालों से बनती नहीं थी। थानाध्यक्ष ने बताया कि आरोपित ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *