Sun. Jun 7th, 2020

मधेपुरा हत्याकांड केस : भतीजे के साथ मिलकर पति ने की पत्नी की हत्या!

मधेपुरा हत्याकांड केस

मधेपुरा हत्याकांड केस : मधेपुरा जिले के चौसा प्रखंड के फुलौत ओपी क्षेत्र के पूर्वी पंचायत वार्ड 4 में गैर मर्द से संबंध रखने के आरोप में भतीजे के साथ मिलकर पति ने की अपनी पत्नी की हत्या। और तो और सबूत छुपाने के लिए तीन दिनों तक घर से बाहर बहियार में शव को जलाता रहा पति। जिसके बाद अपने ही खेत में पत्नी के शव को दफना दिया।

मधेपुरा हत्याकांड केस : पुलिस ने लिया एक्शन

मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में शव को बाहर निकाला गया। वहीं गांव वालों की सहायता से पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया और शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। ओपी अध्यक्ष धनेश्वर मंडल के अनुसार खगड़िया जिले के गोगरी निवासी मृतका के भाई जगत सिंह के फर्द बयान पर एक महिला सहित पांच लोगों पर हत्या का केस दर्ज कर लिया गया है।

सैदपुर पुल सड़क जाम : मुजफ्फरपुर हत्याकांड के बारे में जानिए

मधेपुरा हत्याकांड केस : हत्याकांड का मुख्य कारण जानिए

मृतका शकुना देवी के आरोपी पति वरुण राय के बयान के अनुसार पड़ोस के ही निरंजन कुमार से उसकी पत्नी का अवैध संबंध था जिसकी जानकारी प्राप्त होने के बाद पति ने अपने ससुराल में शिकायत भी की। फिर भी उसकी पत्नी का गैर मर्द से संबंध चलता रहा। इस बात से तंग आ कर हत्यारे पति ने इस हत्याकांड को अंजाम देने की योजना बनाई। और शनिवार को अपने भतीजे के साथ मिलकर रात के दो बजे पत्नी की हत्या कर दी।

बाबर मियां हत्याकांड जाने कैसे गिरफ्तार हुआ जैमल डुमरी का मुखिया

इस घटना के संबंध में सरपंच का क्या कहना है?

फुलौत के सरपंच जय नारायण मेहता के अनुसार चार पांच महीने पहले भी इन पति पत्नी के बीच लड़ाई हुई थी जिसके लिए पंचायत बैठी थी। जिसमें आरोपी पति द्वारा किसी व्यक्ति से अवैध संबंध को लेकर वाद-विवाद की बात कही गई थी। वहीं गांव वालो का कहना है कि एक महीने से दोनों पति-पत्नी बरबीघा बासा पर ही रह रहे थे। वह दोनों अपने खेत में खुद खेती करते थे। बता दें कि मृतका को दो पुत्री और दो पुत्र हैं।

मुखिया को लगी चार गोलियां : जानिए इस हत्याकांड के बारे में-बिहार एक्सप्रेस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *