Wed. Nov 13th, 2019

छठ पूजा 2019 में इतने लोग हुए घायल और इतने लोगों की हुई मौत

छठ पूजा 2019 में

छठ पूजा 2019 में इतने घायल & मृत : पूरे बिहार में सम्पूर्ण श्रद्धा के साथ महापर्व छठ पूजा का समापन आज हो गया. चार दिन तक चले इस व्रती त्योहार सभी बिहार वासियों ने सूर्य देव को अर्घ्य देकर अपनी मनोकामना पूर्ण होने की मन्नत मांगी. लेकिन इस बार छठ पूजा के दौरान कुछ अशुभ घटनाएं भी हुई जिनमें कई लोग घायल हुए तो दुर्भाग्यवश कई लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है.

राज्य सरकार के आंकड़ों के मुताबिक इस बार प्रदेश में छठ पूजा के दौरान अलग-अलग इलाको में घटी इन दुखद हादसों में 18 बच्चो सहित 30 लोगों की मौत हुई हैं. यह जानकारी बिहार पुलिस की तरफ से साझा की गई है. पुलिस के द्वारा बताया गया है कि शानिवार और रविवार के दिन दीवार गिरने के कारण दो महिलाओं की मौत हो गई थी. इसके अलावा 2 बच्चो की मौत भगदड़ मचने से और डूबने के कारण 16 बच्चों सहित 26 लोगों की मौत हुई है.

समस्तीपुर छठ पूजा हादसा : मृतकों की संख्या 3 हुई, सरकार द्वारा 4 लाख रुपये मुहावज़े का एलान

छठ पूजा 2019 में मरने वालों के प्रति हमारी हार्दिक संवेदना

छठ पूजा 2019 में
समस्तीपुर में मंदिर की दीवार गिरने का मंज़र

नीतीश सरकार ने कल समस्तीपुर छठ हादसे में कुल 3 मृत लोगों के परिजनों 4-4 लाख रुपये मुहावजे का एलान किया है. छठ पूजा के वक़्त घटी यह दुखद घटनाये वास्तव में मन को झकझोर देती है. आज यानी रविवार सुबह को चार दिवसीय छठ महापर्व का समापन गंगा एवं अन्य नदियों, तलाबों के किनारे लाखों व्रतियों की ओर से उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देने के साथ हो गया.

Image result for chhath puja 2019"

हालाँकि कई परिवारों में ख़ुशी गम में बदल चुकी है. कई घरों में चिराग बुझ चुके हैं. किसी माँ की कोक में उसके बच्चे की मौत हो गई और तो वहीँ किसी को छठ पूजा के दौरान ही बच्चा हो गया. यह ईश्वर की ही लीला है जिसे स्वीकारना ही पड़ेगा. सभी घायल एवं मृत लोगों के प्रति बिहार एक्सप्रेस की पूरी टीम की ओर से संवेदना ज़ाहिर की जाती है. भगवान सभी मृत लोगों की आत्मा को शांति और उनके परिवारों को इस दुःख की घड़ी में शक्ति प्रदान करे.

 

यह खबरें भी ज़रूर पढ़ें :-

दहेज के लिए पत्नी की हत्या, जानिए कैसे दिया पूरी घटना को अंजाम

मुजफ्फरपुर में लूटपाट- पेट्रोल पंप मैनेजर से लुटे इतने लाख

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *