Sat. Oct 31st, 2020

बिहार के मंत्री कपिलदेव कामत नहीं रहे, सीएम नीतीश कुमार ने जताया शोक

कपिलदेव कामत

बिहार सरकार में पंचायती राज मंत्री व जनता दल यूनाइटेड के नेता कपिलदेव कामत की कोरोना संकरण से मृत्यु हो गई है। पटना के ऐम्स में तकरीबन एक हफ्ते से इलाज करा रहे मंत्री ने वहां देर रात आखरी सांस ली। दो दिनों से उनकी हालत बिगड़ी हुई थी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित कई नेताओं व अन्य लोगों ने कपिल देव कामत के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया।

पटना ऐम्स में एक सप्ताह से चल रहा था इलाज

कोरोना संक्रमित होने के वजह से मंत्री कपिल देव कामत एक हफ़्ते से ऐम्स में भर्ती थे। वे पहले से किडनी के रोग से पीड़ित थे। लगातार उनका डायलिसिस भी किया जा रहा था। हालत ख़राब होने के कारण उन्हें वेंटिलेटर पर रख दिया गया। डॉक्टर्स की लाख़ कोशिशों के बाद भी उन्हें बचाना मुश्किल हो गया।

इनके राजनीतिक सफ़र पर एक नज़र

10 साल से कपिल देव कामत मंत्री पद पर थे। बीते 40 वर्षों से राजनीतिक मैदान में थे लेकिन बीते कुछ दिनों से वह बीमार चल रहे थे। सीएम नीतीश के करीबी माने जाने वाले मंत्री कपिलदेव के बिगड़े स्वास्थ्य को देखते हुए जेडीयू ने बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में मधुबनी की सीट पर उनकी बहू मीना कामत को उम्मीदवार बनाया है।

इनके निधन पर राजनीतिक गलियारे में शोक की लहर

कपिलदेव कामत की मृत्यु से बिहार के राजनीतिक गलियारे में शोक की लहर दौड़ गई है। इनके निधन पर शोक संदेशों की लाइन लग गई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गहरा शोक जताते हुए कहा है कि, ‘इनके असामयिक निधन से राजनीतिक एवं सामाजिक क्षेत्रों में अपूरणीय क्षति हुई है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दें।’

जानिए ये खास बात

आज राज्य में रैलियों का दिन है। आज भाजपा के अध्‍यक्ष जेपी नड्डा की दो रैलियां हैं। वहीं, इमामगंज, ओबरा, बेलागंज व कुर्था में जनता दल यूनाइटेड के अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की चार रैलियां हैं।

 

अन्य खबरें पढ़ें सिर्फ बिहार एक्सप्रेस पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *