Fri. Aug 7th, 2020

जदयू की चुनावी खिचड़ी मकर संक्रांति के उपलक्ष पर

जदयू की चुनावी खिचड़ी

जदयू की चुनावी खिचड़ी : बिहार में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, जिसके लिए नीतीश की पार्टी और लालू की पार्टी ने तैयारी कर ली है। बीजेपी ने चुनाव में अपनी ताकत बढ़ाने के लिए एक योजना बनाई है। इन सभी बातों के मद्देनजर, मकर संक्रांति विधानसभा चुनाव के वर्ष का पहला त्योहार है। ऐसे में इस अवसर पर राजनीतिक दलों की दावत को देखना कोई आश्चर्य की बात नहीं है। विभिन्न दलों के बड़े नेताओं के इन राजनीतिक भोजन में कौन भाग ले रहा है, इस पर निगाहें रहेंगी।

सबसे बड़ा भोज हार्डिंग रोड पर जनता दल-युनाइटेड के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के आवास पर होगा, जिसमें राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की एकजुटता दिखाई जाएगी। दूसरी ओर, सन्नता लालू के आवास पर रहेगा, जो मकर संक्रांति के पर्व के लिए प्रसिद्ध था।

सहरसा व्यापारी मर्डर केस : दिनदहाड़े बदमाशों ने की हत्या, इलाके में खौफ पसरा

जदयू की चुनावी खिचड़ी : एनडीए की एकता साफ़ ज़ाहिर 

मकर संक्रांति के अवसर पर, राजनीतिक दलों की मंत्रणा में दही और चूड़ा के तीन से चार बड़े कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इस वर्ष,लोक जनशक्ति पार्टी और राष्ट्रीय जनता दल द्वारा भोज का आयोजन नहीं किया गया है। हालांकि, राजद के उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने 14 जनवरी को एक दिन पहले अपने आवास पर दही-चूड़ा भोज परोसा।

पहचान और पता अपडेट कराने के लिए पटना में लगी लोगों की भीड़

इस दावत के बारे में, जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि उन्होंने बुधवार को अपने सरकारी आवास पर मकर संक्रांति का जला-दही निमंत्रण रखा है। वे कई वर्षों से इस भोज का आयोजन कर रहे हैं। इसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और राज्य मंत्रिमंडल के सदस्यों के साथ विभिन्न दलों के विधायक और कार्यकर्ता मौजूद रहेंगे। इस चुनावी खिचड़ी के चलते एनडीए अपनी एकता को ज़ाहिर करेगी जिससे सभी विपक्षियां का पस्त होना निश्चित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *