Wed. Feb 19th, 2020

पति की अजब-गजब इच्छाएं, पत्नी से करता है ये डिमांड, जानिए

पति की अजब-गजब इच्छाएं

एक सरफिरे पति की अजब-गजब इच्छाएं जाने के आप भी दंग रह जायेंगे। पति को संस्कारी पत्नी नहीं बल्कि जीन्स-टी-शर्ट और मिनी स्कर्ट पहन ने वाली मॉडर्न लड़की चाहिए थी। लेकिन पत्नी को यह सब बिलकुल भी नहीं पसंद था। पत्नी ने पति की इस बात से इंकार किया तो झल्लाए पति ने फ़ौरन ‘तीन-तलाक’ दे दिया। इस बात से परेशान पीड़ित पत्नी इन्साफ के लिए बिहार राज्‍य महिला आयोग पहुंची है। पति को आज के जमाने की मॉडर्न कर स्टाइलिश पत्नी चाहिए, जो उसकी पत्नी मानने को तैयार नहीं है।

पत्नी के कपड़े को लेकर पति की अजब-गजब इच्छाएं

यह मामला पटना का है, जहाँ पत्नी नमरा फातिमा से पति मॉडर्न बनने की डिमांड करते हैं। नमरा फातिमा एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। नमरा की शादी 2015 में इमरान मुस्तफा से हुई थी। दोनों शादी के बाद दिल्ली चले गए। पीड़ित पत्नी का कहना है कि पति इमरान उसपर जीन्स-टी-शर्ट और स्कर्ट जैसे छोटे कपड़े पहनने का दबाओ बनाते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं पति उसपर सिग्रेटे और शराब पीने का भी दबाओ बनाता है। दिल्ली में रहकर इमरान उसे एकदम मॉडर्न बनाना चाहता था। पति इमरान उसे देर रात कि पार्टियों में ले जाता था, जहाँ का माहौल पत्नी को बिल्कुल भी पसंद नहीं था। पत्नी ने इंकार करने से झल्लाए पति इमरान ने कहा अगर वो ऐसा नहीं करती तो वो उसे तलाक दे देगा और उसने यही किया।

 

Image result for पति करता पत्नी पर अत्याचार"

पत्नी को जबरन करवाया गर्भपात

पत्नी के इंकार करने से पति नाराज हो गया और उसके साथ मारपीट करने लगा। इस बीच पत्नी गर्ववती हुई तो अनदेखी के कारण बच्‍चे की गर्भ में ही मौत हो गई। लेकिन दूसरी बार जब वह गर्भवती हुई तो पति ने जबरन गर्भपात करा दिया। हर समय बस उससे अपनी बात मनवाने का दबाओ बनाता था।

 

Image result for पति करता पत्नी पर अत्याचार"

 

यह भी पढ़ें- मुस्लिम इमाम पर गिरिराज की खरी-खरी आई सामने

पति की इस हरकत के बाद अब पत्नी इन्साफ के लिए दर-दर भटक रही है। पीड़िता थाना से महिला आयोग तक का दरवाजा इन्साफ के लिए खटखटा रही है। पीड़ित पत्नी ने पति इमरान के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में एफआइआर दर्ज करा दी है। उसने बिहार राज्‍य महिला आयोग में भी शिकायत की है। पर, इमरान सुनवाई की तिथि पर बिहार महिला आयोग नहीं पहुंचा। अब महिला आयोग ने सुनवाई की अगली तिथि मार्च में रखी है। आयोग की अध्यक्ष ने मामले को गंभीर बताते हुए कहा नियम अनुसार सुनवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *