Sat. Sep 26th, 2020

बिहार में भारी बारिश, पटना के ये इलाके पानी में ले रहे डुबकियां

भारी बारिश

बिहार में मौसम ने भयानक करवट लिया है। यहां मंगलवार से भारी बारिश का सिलसिला अब तक जारी है। मौसम विभाग द्वारा आज भी प्रांत के कई इलाकों में तेज़ बारिश के साथ व्रजपात का अलर्ट जारी हुआ है। पटना, भोजपुर, वैशाली, समस्‍तीपुर, सिवान, सारण, गोपालगंज, पश्चिम चंपारण व पूर्वी चंपारण के लिए तूफ़ानी बारिश की चेतावनी दी गई है।

पटना की बात करें तो यहां सुबह से भारी बरसात देखी जा रही है। जिस वजह से यहां के कई इलाके पानी में डूबे हुए हैं। मौसम विभाग की माने तो मानसून की अक्षीय रेखा बंगाल की खाड़ी में जा रही है, जिस वजह से आ रही नमी के कारण गुरुवार तक रुक-रुक कर बारिश होती रहेगी।

पटना में बिजली गिरने से एक की मौत

वज्रपात से पटना के नौबतपुर स्थित दिनाचक गांव में मंगलेश यादव नाम के एक किसान की मौत हो गई। स्वजनों के अनुसार मृतक अपने खेत में जा रहा था कि इसी दौरान वह वज्रपात का शिकार हो गया। और वहीं के वहीं उसकी मृत्यु हो गई।

पूरे राज्य में ताबड़तोड़ बारिश, राजधानी के कई इलाकों में पानी घुसा

मंगलवार रात से राजधानी पटना सहित कई इलाकों में भारी बारिश का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। अपको बता दें कि, मंगलवार को सर्वाधिक 70 मिलीमीटर बारिश अररिया के फारबिसगंज में हुई। बीती रात नौ बजे तक पटना में 60 मिलीमीटर तक बारिश हुई थी। फिर बुधवार की सुबह भी सामान्य माहौल रहा। जिससे कि विभिन्न जगहों के सड़कों पर जलजमाव हो गया और रास्ते जाम हो गए। बारिश के वजह से यहां विधानसभा व सचिवालय समेत कई वीआइपी इलाके पानी में डूबे हुए हैं।

बारिश से नदियां उफान पर

एक बार फिर से भारत-नेपाल के तराई इलाके में तेज़ बारिश के कारण पहाड़ी नदियों का जलस्तर बढ़ गया। इन नदियों के किनारे बसे गांवों के लोगों के बीच डर का माहौल है कि कहीं उफनाई नदियों का पानी इनके घरों को ना निगल ले। बता दें, गंडक नदी के जलस्तर में भी काफ़ी वृद्धि हुई है। बेतिया के सिकटा मैनाटांड़ एवं नरकटियागंज में पहाड़ी नदियां उफान पर हैं। वाल्‍महकि टाइगर रिजर्व के मंगुराहा वन क्षेत्र में भी पानी घुस गया है। वीटीआर प्रशासन द्वारा वन कर्मियों को अलर्ट जारी किया गया है।

 

अन्य खबरें पढ़ें सिर्फ बिहार एक्सप्रेस पर.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *