Wed. Sep 30th, 2020

सोशल मीडिया पर छा गई अमित शाह की “डिजिटल रैली”, पढ़िए पूरी ख़बर

कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए रविवार को अमित शाह ने “डिजिटल रैली” में बीजेपी की गतिविधियों को साझा किया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि यह एलीडी का ज़माना है, लालटेन का दौर पुराना हो चुका है। उनका ये जुमला सोशल मीडिया पर छा गया है।

डिजिटल रैली

आइए जानते हैं अमित शाह की “डिजिटल रैली” की खासियत

इस “वर्चुअल रैली” के लिए पटना प्रदेश मुख्यालय के अटल बिहारी वाजपेई सभागार और दिल्ली में मंच तैयार किया गया था। बिहार में नवंबर में विधानसभा चुनाव को देखते हुए कार्यकर्ताओं और समर्थकों द्वारा इस रैली को अभियान के रूप में लिया गया। ऑनलाइन पोस्ट और ट्वीट्स भी इस “डिजिटल रैली” का खास हिस्सा हैं।

इस बातचीत को बिहारियों ने खूब सराहा

रैली की शुरुवात में ही बीजेपी ने अपने आधिकारिक अकाउंट द्वारा यह जनसंदेश दिया कि कोरोना संकट में जनसंपर्क को भूलना बीजेपी की फितरत नहीं है। जनता से जुड़े रहने का इनका प्रयास कायम रहेगा। खास बात यह है कि बिहारवासियों को बीजेपी के कार्यों और मेहनत पर पूरा विश्वास है। जैसे कि रीमा कौर ट्विटर यूजर के अनुसार सामाजिक सुरक्षा के मापदंडों को ध्यान में रखते हुए गृह मंत्री की बिहारवासियों से हुई बातचीत पसंद की गई है।

वहीं, कृष्ण भारद्वाज लिखते हैं कि देश का हर कोना बिहारियों की मेहनत के पसीने से महक रहा है और ऑनलाइन मंच पर मज़दूरों को सम्मान देना अमित शाह नहीं भूले।

वहीं, इस बात को भी लोगों से परिचित कराया गया कि सरकार द्वारा सैकड़ों गरीबों के खातों में पैसे भेज कर उनकी मदद करने का प्रयास किया गया है।

इस रैली द्वारा जनता के दुख-दर्द को समझने का प्रयास किया गया है और साथ ही लोगों को आश्वासन दिया गया कि बीजेपी का साथ उनके साथ हर दम रहेगा। इस जंग में सरकार अपनी जनता के साथ खड़ी है।

अन्य खबरें पढ़ें सिर्फ यूथ एक्सप्रेस पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *