Fri. Aug 14th, 2020

बिहार में कोरोना वायरस को लगा पंख, मरीजों का आंकड़ा 14 हज़ार के पार

दुनिया के हर कोने में कोरोना ने अपना कहर बरपाया है इससे बिहार भी अच्छूता नहीं रहा है। आइए जानते हैं बिहार में क्या है कोरोना का हाल। बिहार में कोरोना वायरस प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को आई कोविड-19 की जांच रिपोर्ट में कुल 352 पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है जिसके बाद अब कुल मरीजों की संख्या 14330 जा पहुंची है। इनमे से अभी तक 9792 ठीक हुए हैं। बुधवार और गुरुवार को कुल 19 लोगों की मौत कोरोना के कारण हुई, जिसके बाद कुल मृतकों की संख्या बढ़कर अब 123 हो गई है।

बिहार में कोरोना वायरस

उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के निजी सचिव व तीन अन्य भी कोरोना संक्रमित

चाहे आम जन हो या खास कोरोना ने सब को अपने जद में लिया हुआ है। गुरुवार को लोक जनशक्ति पार्टी की सांसद वीणा देवी के बाद अब उनके पति और जदयू MLC दिनेश सिंह, उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के निजी सचिव व तीन अन्य स्टाफ समेत 704 पॉज़िटिव केस पाए गए हैं। वहीं, बुधवार को एक दिन में 749 पॉज़िटिव केस मिले थे। चाहे आम जन हो या खास कोरोना ने सब को अपने जद में लिया हुआ है।

एनएमसीएच में अब सिर्फ ऐसे मरीजों की होगी भर्ती

बिहार में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए गुरुवार को यह फैसला लिया गया कि बिहार के कोरोना अस्पताल एनएमसीएच में बिना किसी लक्षण वाले मरीजों को भर्ती नहीं किया जाएगा। प्राचार्य डॉक्टर हीरा लाल महतो का कहना है कि अब सिर्फ कोरोना पॉज़िटिव गंभीर एवं अति गंभीर मरीज़ ही एनएमसीएच में भर्ती किए जाएंगे। वहीं, एसिंप्टोटिक लोगों को शहर के क्वारंटीन सेंटर में शिफ्ट किया जाएगा। जिसके लिए सिविल सर्जन स्तर से व्यवस्था की जा रही है।

अस्पताल में विशेषज्ञ चिकित्सकों की उलब्धता को देखते हुए
कोरोना ग्रसित गंभीर मरीजों का ही इलाज किया जाएगा। ऐसे मरीजों के लिए ही बेड खाली कराया जा रहा है। वहीं नोडल पदाधिकारी डॉ. अजय कुमार सिन्हा के अनुसार ऐसे 85 मरीजों को चिह्नित किया गया है। क्वारंटीन सेंटर की सूची प्राप्त होते ही इन मरीजों को वहां शिफ्ट किया जाएगा।

कोरोना के इस कहर को देखते हुए बिहार सरकार ने प्रांत के कुल सात जिलों में एक बार फिर से एक निश्चित समय के लिए लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया है।

गैंगस्टर विकास दुबे का एनकाउंटर, इन बिहारियों ने गिरफ्तारी में की मदद

अन्य खबरें पढ़ें सिर्फ बिहार एक्सप्रेस पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *