Fri. Oct 30th, 2020

बिहार राज्य में सीट बंटवारे पर खींचतान जारी

सीट बंटवारे

-उज्जवल श्रीवास्तव

सीट बंटवारा बिना खट पट के पूरा नहीं हो सकता है। अब चाहे वो घर का हो या पार्टियों के बीच सीट को लेकर हो। चुनाव के दिन पास आ रहे हैं और बिहार में महागठबंधन के तहत खींचातानी जारी है। सारे दलों के नेता दिल्ली में इसपर बैठक कर रहे हैं पर किसी भी निर्णय पर नहीं पहुंच पा रहे हैं। अगर सूत्रों की माने तो इसी से संबंधित एक खबर आई है जिसमें हिंदुस्तान अवाम मोर्चा के प्रमुख और बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी महागठबंधन पर जारी बातचीत को बीच में ही छोड़ कर पटना वापस चले गए।
पटना जाने से पहले उन्होंने मीडिया से बातचीत की जिसमें उन्होंने अपनी बात रखी। उन्होंने बताया कि महागठबंधन में सीट बटवारे में कांग्रेस और राजद के बाद उनकी पार्टी को सबसे ज़्यादा सीट मिलनी चाहिए। इसी बीच ये भी पता चला है कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव मांझी को जमुई संसदीय सीट देना नहीं चाह रहे हैं।

सीट बंटवारे की समस्या है तगड़ी जनाब !

आपको बताना चाहेंगे कि बुधवार को लगभग सीट के बंटवारे कि आधी गणित हो गई है। बस थोड़ी जद्दोजहद के बाद वो भी पूरी हो जाएगी।
इसी बीच ये खबर आई कि कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने पीटीआई से बात चीत में ये बात कही कि बैठक में सीटों का बंटवारा लगभय तय हो गया है. राजद की ओर से कांग्रेस के लिए 11 सीटों पर रजामंदी दी गयी है.’ उन्होंने कहा, ‘ महागठबंधन में शामिल सभी पार्टियों को पूरा सम्मान मिलेगा और पूरी संभावना है कि 17 मार्च को सीटों के बंटवारे की घोषणा की जाए’।
आपको ये भी बताना चाहेंगे कि सूत्रों के अनुसार राजद नेता तेजस्वी यादव रालोसपा, हम, लोकतांत्रिक जनता दल और मुकेश साहनी की विकासशील इंसान पार्टी को साथ रखना चाहते हैं। यही नहीं वो वाम दलों को सीट देने के पक्ष में नहीं हैं वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस इससे विपरीत  वाम दलों को 2 से 3 सीट देकर गठबंधन में उसे भी शामिल करना चाहती है। अब अगर पिछले लोकसभा चुनाव की बात करें तो उसमे यहां के सबसे ज़्यादा सीट बीजेपी के ही खाते में गई थी। तो इस बार देखना ये है कि महागठबंधन का फार्मूला क्या सीट दिलवा पाएगा या सिर्फ ये फार्मूला फेल हो जाएगा।

यह भी पढ़ें – विनोद कुमार यादव करने वाले है भोजपुरी इंडस्ट्री में डेब्यू

 

यह भी पढ़ें – बिहार दिवस पर पीएम मोदी ने लोगों को बधाई

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *