Fri. Nov 22nd, 2019

बिहार विधानमंडल शीतकालीन सत्र 2019 : 22 से 28 नवंबर तक चलेगा साल का अंतिम सत्र

बिहार विधानमंडल शीतकालीन सत्र 2019

बिहार विधानमंडल शीतकालीन सत्र 2019 : आज लम्बे इंतज़ार के बाद बिहार विधानमंडल शीतकालीन सत्र नवंबर के महीने में आयोजित होगा. इसको लेकर तारीखों का एलान हो चुका है. बिहार विधानमंडल का पांच दिवसीय शीतकालीन सत्र 22 से 28 नवंबर तक चलेगा. बिहार विधानसभा के उप सचिव राजीव कुमार ने प्रेस वार्ता में कहा कि 22 नवंबर को सत्र के दौरान वित्तीय वर्ष 2019-20 का दूसरा अनुपूरक व्यय प्रस्तुत किया जाएगा.

उन्होंने आगे बताया कि 23 और 24 नवंबर को सदन की बैठक नहीं होगी और 25 और 26 नवंबर को राज्य और अन्य राज्य कार्यों को पूरा किया जाएगा. राजीव ने कहा कि 27 नवंबर को वित्तीय वर्ष 2019-20 के दूसरे न्यूनतम व्यय पर बहस और मतदान होगा.

बता दें कि शीतकालीन सत्र के लिए सरकार की तैयारी पूरी तरह से है. दूसरी ओर विपक्ष भी सरकार को घेरने की तैयारी में है. विपक्ष ने कानून व्यवस्था सहित कई मामलों पर सरकार को घेरने के लिए सदन में यह आखिरी मौका नहीं छोड़ेगी क्योंकि आगामी चुनाव नज़दीक है और इसके बाद सभी को सीधे चुनावी रणभूमि में एक दूसरे का आमना-सामना करना होगा.

बिहार पुलिस एसोसिएशन ने दिया दिल्ली पुलिस का साथ इस वजह से

बिहार विधानमंडल शीतकालीन सत्र 2019 : पक्ष-विपक्ष के पास अंतिम मौका ……….

इस बार सदन में प्रदूषण को लेकर बन रहा मुद्दा भी चर्चा के विषय बिंदुओं में शामिल रहेगा. सरकार जहाँ इसको लेकर अपने ऐतिहासिक कदमो को ब्योरा देगी तो वहीँ विपक्ष इसमें भी नुस्ख निकालते हुए बवाल करेगा नहीं तो कानून-व्यवस्था पर ही अपनी घिसि -पिटी कुतर्की बातों को रखेगा जैसे कि अन्य राज्यों में पुलिस 100 प्रतिशत क्राइम ख़त्म कर चुकी हो.

बिहार विधानसभा 2020 से पहले यह आखिरी कोशिश होगी जहाँ चुनावी समर से पहले पक्ष-विपक्ष के लोग जनता के सामने अपनी निति-अजेंडे आदि को रखते एक दूसरे से सदन में रूबरू होंगे और भिड़ेंगे भी. यह शीतकालीन सत्र बेहद गर्माहट से भरपूर होगा यह तो बात तो तय है.

यह खबरें भी ज़रूर पढ़ें : –

प्रदूषण पर बिहार सरकार का एक और फैसला, 2021 से डीजल ऑटो का चलना बंद

सीमांचल में लव जिहाद की साजिश ? एक साल में गायब हुई करीब 200 लड़कियां !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *