Tue. Apr 7th, 2020

सीएम नीतीश का ऐलान, राज्य में कोरोना से संक्रमित मरीजों के ईलाज का पूरा खर्च उठाएगी सरकार

सीएम नीतीश का ऐलान

जिस तेज़ी से खतरनाक कोरोना वायरस विश्व भर में अपने पैर पसारते जा रहा उसे देखते हुए तक़रीबन सभी देशों ने खुद को लॉकडाउन कर रखा है ताकि इसकी वजह से और ज्यादा लोग संक्रमित ना होने पायें। भारत में भी कोरोना ने अपना काफी प्रकोप दिखाया हुआ है और अभी तक इसके करीं 115 संक्रमित सामने आ चुके है जबकि इसकी वजह से दो मौतें भी हो चुकीं है। एहितात के तौर कई राज्यों ने स्कूल, कॉलेज, मॉल, सिनेमाघर, आदि तमाम जगहों को जहाँ पर ज्यादा संख्या में लोग इक्कठे हो सकते हैं उसे अगले कुछ दिनों तक बंद कर दिया है। कोरोना का संक्रमण किसी भी तरह से ना फैले इसके लिए बिहार के सीएम नीतीश कुमार के आदेश से सभी स्कूल, कॉलेज आदि को 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है।

सीएम नीतीश ने बताया बिहार से एक भी कोरोना मरीज नहीं

बता दें की देश के कुछ राज्यों जैसे केरल, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, आदि कुछ राज्यों में कोरोना के से संक्रमित मरीज मिलें हैं मगर अभी तक बिहार राज्य से एक भी मरीज की पुष्टि नहीं हुई है। फिलहाल इस समस्या से ना सिर्फ भारत बल्कि दुनिया भर के 195 में से करीब 150 देश जूझ रहे हैं जिनमें सबसे बड़ी समस्या चीन और इटली में हुई है। मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने कहा कि बिहार में कोरोना वायरस से संक्रमित एक भी मरीज नहीं मिले हैं। हालाँकि सीमावर्ती राज्य उत्तर प्रदेश और नेपाल में इस रोग के मरीज मिले हैं, साथ ही बिहार में राज्य के कई जिलों में विदेशों से लोगों का आना-जाना लगातार होता रहता है, जिससे यहां भी संक्रमण का खतरा बना हुआ है।

खुद से बरते सुरक्षा रहेंगे सेफ

सीएम नितीश कुमार ने बताया कि उनके राज्य में यदि कोई भी कोरोना वायरस का मरीज सामने आता है तो उसके इलाज का पूरा खर्च सरकार उठाएगी. मगर इसके साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि यह रोग सामन्य वायरल की तरह खांसने और छिंकने से तथा थूक के छींटों के माध्यम से फैल सकता है। संभव है कि यदि आप संक्रमित व्यक्ति से कोई हाथ मिला ले अथवा उसके नजदीक में रहे तो उनमें भी संक्रमण होने का खतरा रहता है।

यदि रोगी से निकले थूक की बूंदे किसी के हाथ में लग जाए और वह व्यक्ति अपने हाथ से मुंह, नाक अथवा आंख छू ले तो उसे भी संक्रमण हो सकता है। ऐसे में बचाव के लिए आवश्यक है कि आप खुद इसके प्रति सतर्क रहें और किसी भी व्यक्ति से दो मीटर की दूरी बनाके रखें। किसी भी भीड़ वाले स्थान जैसे शादी, पार्टी, बैठक, मॉल में जाने से बचें। आवश्यक नहीं हो तो यात्रा नहीं करें। सामाजिक और व्यक्तिगत दूरी ही इस रोग से बचाव का सबसे अच्छा उपाय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *