Sat. Sep 26th, 2020

बिहार चुनाव 2020 के लिए निर्वाचन आयोग की तैयारी शुरू, पढ़िए पूरी ख़बर

बिहार चुनाव 2020 के सफल क्रियान्वयन के लिए निर्वाचन आयोग की तैयारी शुरू हो चुकी है जिसमें निर्वाची अधिकारियों का प्रशिक्षण शामिल है। अपको बता दें कि गुरुवार को मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय द्वारा विधानसभा चुनाव को लेकर जिलों के निर्वाची अधिकारियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू कर दिया गया है।

बिहार चुनाव 2020

बिहार चुनाव 2020 की तैयारी कुछ इस तरह

पटना में लॉकडाउन के बीच पहले दिन ट्रेनिंग के लिए 80 अधिकारीयों को बुलाया गया है। प्रशिक्षुओं को आयोग से प्रशिक्षित स्टेट मास्टर ट्रेनर दो दिन में प्रशिक्षित करेंगे। अधिवेशन भवन में शुरू हुए प्रशिक्षण कार्यक्रम के पहले दिन में 80 निर्वाचन अधिकारी भागीदार बनेंगे। निर्वाचन आयोग की तरफ़ से नामांकन से लेकर मतदान कराने और मतगणना संपन्न कराने तक की ट्रेनिंग दी जा रही है। शुक्रवार को भी ट्रेनिंग दी जाएगी। तीन टीमों को दो दो दिन तक ट्रेनिंग देने का शेड्यूल तैयार किया गया है। आपको बता दें कि इससे पहले राज्‍यस्‍तरीय प्रशिक्षण दिया जा चुका है।

चुनाव की बारीकियों से मुखातिब कराया जाएगा

उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी बैजूनाथ सिंह के अनुसार विधानसभावार अब मास्टर ट्रेनर प्रशिक्षुओं को शारीरिक दूरी सुनिश्चित करते हुए मास्क लगाकर और हाथों को सैनिटाइज कर चुनाव से जुड़ी बारीकियों की प्रशिक्षण दी जा रही है। वहीं, राज्यस्तरीय मास्टर ट्रेनर का प्रशिक्षण कार्यक्रम समाप्त हो चुका है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के अधिकारियों को मास्टर ट्रेनर के रूप प्रशिक्षित किया गया है। अब ये मास्टर ट्रेनर निर्वाची अधिकारियों को प्रशिक्षण देने में जुटे हुए हैं। इसके बाद निर्वाची अधिकारी विधानसभावार मतदान कर्मियों को प्रशिक्षित करेंगे।

9 जुलाई से लेकर 17 जुलाई तक अधिवेशन भवन के सभागार में सभी निर्वाची अधिकारियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। बता दें कि इस सभागार में 200 सीटें मौजूद हैं। लेकिन कोरोना का कहर देखते हुए प्रशिक्षुओं को तीन टीमों में बांट कर अलग-अलग समय में प्रशिक्षण देने का फैसला लिया गया है। एक टीम को दो दिन प्रशिक्षण दिया जाएगा। पहली टीम को 9 और 10, दूसरी टीम को 13 और 14 तथा तीसरी टीम को 16 और 17 जुलाई को प्रशिक्षण के लिए बुलाया गया है।

विधानसभा चुनाव के निर्वाची अधिकारीयों में 101 अनुमंडल अधिकारी (एसडीओ), 101 भूमि उप समाहर्ता एवं अन्य वरीय अधिकारी शामिल हैं जिन्हें प्रशिक्षित किया जाएगा। विधानसभा क्षेत्रों में इन्हीं अधिकारीयों द्वारा नामांकन से मतदान तक और मतगणना कराने की जिम्मेदारी निभाई जाएगी।

 

अन्य खबरें पढ़ें सिर्फ बिहार एक्सप्रेस पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *