Fri. Jul 3rd, 2020

बाबूलाल मरांडी की घर वापसी भाजपा में 17 फरवरी को तो……

बाबूलाल मरांडी की घर वापसी

बाबूलाल मरांडी की घर वापसी : बाबूलाल मरांडी की अगुवाई में झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) ने मंगलवार को 17 फरवरी को भाजपा के साथ विलय का फैसला सुनाया। पार्टी की एक केंद्रीय समिति की बैठक ने सर्वसम्मति से भाजपा के साथ पार्टी के विलय को मंजूरी दे दी, जेवीएम (पी) के अध्यक्ष मरांडी ने संवाददाताओं को बताया।

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा 17 फरवरी को यहां प्रभात तारा मैदान में विलय समारोह में शामिल होंगे। मरांडी ने यह भी कहा, पार्टी के विधायकों प्रदीप यादव और बंधु तुर्की के निष्कासन को पार्टी की केंद्रीय समिति ने मंजूरी दे दी है।

जेवीएम (पी) ने पिछले हफ्ते नई दिल्ली में कांग्रेस नेताओं सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मुलाकात के बाद यादव को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता के दिनों से निष्कासित कर दिया था। प्रदीप यादव, बंधु तिर्की के बाद पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए एक पखवाड़े के भीतर बाहर किए जाने वाले  दूसरी पार्टी के विधायक थे।

मुज़फ़्फ़रपुर शेल्टर होम केस : अदालत ने सुनाई दोषियों को सज़ा

बाबूलाल मरांडी की घर वापसी : रघुबर दास होंगे साइडलाइन 

जेवीएम (पी) ने पिछले साल हुए विधानसभा चुनावों में तीन सीटें हासिल की थीं। यादव और तिर्की के अलावा, पार्टी प्रमुख बाबूलाल मरांडी जीते थे।

अब कभी भाजपा के झारखंड फेस और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रचारक रहे बाबूलाल मरांडी राज्य में भाजपा के शीर्ष नेता बनकर फिर से विपक्ष में रहते हुए हेमंत सोरेन सरकार का सामना करेंगे जिससे पूर्व सीएम रघुबर दास के पतन के तौर पर देखे जानी वाली घटना का अनुमान अभी से लगाया जा सकता है।

अब देखना लाज़मी होगा कि आने वाले वक़्त में भाजपा बाबूलाल मरांडी को कौन सी  भूमिका देती है और हार से हताश झारखंड भाजपा में जान फूंकने का काम वह कर पाएंगे या नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *