Mon. Jun 1st, 2020

तबलीगी जमात के लोगों की तलाश में चला अभियान, उत्तर बिहार में 26 सदस्य और मिले

हम सभी जानते हैं की कोरोना संक्रमण कोई मामूली बीमारी नहीं है, इसके वजह से विश्व भर में कई हज़ार लोगों की जान जा चुकी है और तो और तक़रीबन 9 लाख से भी ज्यादा लोग प्रभावित हो चुके हैं। भारत में फिलहाल तो स्थिति काफी हद तक नियंत्रण में है मगर जिस तरह की हरकतें सामने आ रही है उसे देखते हुए ऐसा लग नही रहा कि कोरोना संकट पर स्थिति नियंत्रण में रह पायेगी। अभी हाल ही में तबलीगी जमात का के वाकये ने पुरे देश को झाकझोर कर रख दिया। सरकार द्वारा लाख मना करने, नियम लगाने, लॉकडाउन लागू करने के बावजूद जमात के लोगों द्वारा की गयी यह हरकत बेहद ही निंदनीय है।

उत्तर बिहार में तबलीगी जमात के 26 सदस्य और मिले

फिलहाल तो तबलीगी जमात के बहुत से लोग देश के अलग अलग हिस्सों में बिखर चुके हैं और यह सरकार के सभी प्रयासों पर पूरी तरह से पानी फेर सकता है। उत्तर बिहार में दूसरे दिन गुरुवार को भी तबलीगी जमात के लोगों की तलाश में अभियान चलाया गया। इस दौरान मुजफ्फरपुर के सकरा से 16 और दरभंगा के सिंहवाड़ा से दस लोगों को उठाकर क्वारंटाइन सेंटर भेजा गया।

बताते चलें कि सिंहवाड़ा में मिले तबलीगियों में छह महाराष्ट्र और चार पूर्वी चम्पारण के रहने वाले लोग हैं। वहीँ दूसरी तरफ समस्तीपुर, मधुबनी और पूर्वी चम्पारण में कई मस्जिद व मदरसा में भी काफी कड़ी से जांच की गई मगर वहां पर कोई संदिग्ध नहीं मिला। बताया जा रहा है कि फरीदपुर मदरसे में तब्लीगी जमात के 16 एक्टिविस्ट हैं। इनमें सात दिल्ली के हैं। इसके अलावा मोतिहारी के दो, जिले के काजी मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र के दो, मिठनपुरा के दो व सकरा का एक एक्टिविस्ट शामिल है। सीएस ने जांच के बाद क्वारंटाइन में रखने के लिए इन्हें सदर अस्पताल लाने का निर्देश दिया है। इसके अलावा सीओ सुशील कुमार उपाध्याय ने दो मस्जिदों से 10 लोगों के मिलने की पुष्टि की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *