Sat. Oct 31st, 2020

“ट्विटरहॉलिक” लालू प्रसाद यादव

लालू प्रसाद यादव

-उज्जवल श्रीवास्तव 

“ट्विटरहॉलिक” लालू प्रसाद यादव ! ~ चुनाव से पहले सियासी गलियरों में मची बयानबाजी थमने का नाम नहीं ले रही है। एक ओर जहां आए दिन कोई न कोई नेता एक पार्टी को छोड़कर दूसरी पार्टी का दामन थाम रहा है तो कोई चुनाव लड़ने की रेस से बाहर हो रहा है। इसी बीच एक अनोखा मामला सामने आया है। । खैर ये बात तो सच है कि यादव जी हमेशा अपने बयानों के वजह से चर्चा में रहते हैं पर इस बार तो पूरी गणित ही अलग है। आपको बताना चाहेंगे कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता और बिहार के उपमुख्यंत्री सुशील कुमार मोदी ने लालू जी को  ट्विटर से राजनीती में सक्रिय रहने का आरोप लगाया है। ये तो सभी जानते हैं कि लालू जी चारा घोटाले मामले में जेल में सज़ा काट रहे हैं।
सुशील जी के इसी बयान के बाद पूरे राजनीतिक गलियारे में हलचल मच चुकी है। इस पूरे मामले ने कई सवाल भी खड़े कर दिए हैं। सुशील जी ने चुनाव आयोग से सवाल किया कि क्या कोई इंसान जो किसी भी मामले में जेल में सज़ा काट रहा हो, क्या उसे मोबाइल, वॉट्सएप, फेसबुक, ट्विटर जैसे चीजों को इस्तेमाल करने का हक है। इस पूरी घटना को सुनने के बाद मोदी जी ने भी अपनी चुप्पी तोड़ दी है उन्होंने लालू प्रसाद के चुनाव में अयोग्य होने की बात उठाई।

लालू प्रसाद यादव ट्विटर मामले पर इसी ने क्या कहा ?

इसी बीच जब बिहार के अवर मुख्य निर्वाचन अधिकारी से जांच के आदेश के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उन्हें चुनाव आयोग से ऐसे किसी भी जांच के आदेश नहीं मिलें हैं।  इधर इस मामले को ज्वालामुखी की तरह फूटते देख लालू प्रसाद ने एक और ट्वीट किया जिसमें उन्होंने इस पूरे मामले पर सफाई दी। उन्होंने बताया कि उनका ये ट्विटर अकाउंट उनके कार्यालय से चल रहा है। वो अपनी मन की बात बताने के लिए ऐसा कर रहे हैं। ये ट्विटर अकाउंट उनके परिवार के परामर्श में उनके कार्यालय के लोग चला रहे हैं।
चुनाव के बीच ऐसी बयानबाजी और हल चल जायज़ है। खैर इस पूरी घटना ने कई सवाल खड़े कर दिए थे पर बाद में लालू जी के ट्वीट ने सारी बातें साफ कर दी है। आपको बताना चाहेंगे कि हालि में लालू जी को चुनाव में अयोग्य करार दिया गया क्योंकि वो चाराघोटाले दोषी करार दिए जा चुके हैं इस बीच ऐसी घटना का आ जाना अगर ऐसे सवाल खड़े कर देता है तो वो लाज़मी है।

यह भी पढ़ें – पूर्वोत्तर रेलवे ने उठाया एक बड़ा कदम अब ट्रेनों में वेटिंग होंगे कम

यह भी पढ़ें – जरा फ्लैशबैक डालते हैं लालू यादव की होली में

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *